वकील सतीश मानशिंदे का बड़ा खुलासा - एक माह तक Rhea ने किया युद्ध जैसी स्थिति का सामना

 

  • वकील मानशिंदे ने कहा कि जेल में रिया दूसरे कैदियों के लिए योग क्लास लगाती थीं।
  • वह एक सामान्य माहिला कैदियों की तरह जेल में रहती थी।
  • कोरोना वायरस की वजह से उन्हें घर का खाना देने की इजाजत नहीं मिली थी।

नई दिल्ली। सुशांत सिंह राजपूत मामले में 28 दिनों तक जेल में रहने के बाद जमानत पर मुंबई की भायखला जेल से रिहा हुई रिया चक्रवर्ती ( Rhea Chakraborty ) की जेल डायरी को लेकर चर्चित वकील मानशिंदे ( Satish Manshinde ) ने बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने रिया के जेल में बिताए दिनचर्या का जिक्र करते हुए कहा कि उन्हें लोगों ने बंगाल की बाघिन तक बताया। लेकिन उन्होंने अपना आपा नहीं खोया और हमेशा पॉजिटिव बनी रहीं।

वकील मानशिंदे ने कहा कि अपनी छवि को ठीक करने के लिए बंगाल की बाघिन अब अपनी जंग खुद लड़ेगी। जेल में रहने के दौरान रिया ने खुद को काफी सकारात्मक रखने की कोशिश की।

जेल के अंदर अच्छे से रही रिया

रिया के वकील ने एक न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से इतने सालों बाद एक क्लाइंट को देखने के लिए जेल गया था। क्योंकि जांच एजेंसियां उनके पीछे पड़ी थी और उन्हें परेशान किया जा रहा था। मैं यह देखना चाहता था कि वह जेल के भीतर किस स्थिति में रह रही थीं। यह देखना मेरे लिए सुखद था कि वह जेल के भीतर अच्छे से रह रही थीं।

Bihar Election : 2015 में जिन सीटों पर हारी थी बीजेपी, वीआईपी को मिली उन्हीं को जीतने की चुनौती

जेल में कैदियों को सिखाया योग

अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती जेल में न केवल खुद की देखभाल करती थी बल्कि वह जेल के कैदियों के लिए योग क्लासेज भी लगाती थीं। वह जेल में कैदियों को योग सिखाया करती थीं। उन्होंने खुद को जेल के मुताबिक एडजस्ट कर लिया था, क्योंकि कोरोना महामारी के कारण उन्हें घर का खाना नहीं मिल सकता था। वह जेल में एक सामान्य महिला कैदियों के साथ रहती थीं।

बेशर्म लोगों से लड़ेगी

लेकिन एक आर्मी जवान की लड़की होने के नाते उन्होंने पिछले एक माह के दौरान युद्ध जैसी परिस्थितियों का सामना किया। जमानत पर रिहा होने के बाद वह किसी भी व्यक्ति का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। भायखला जेल से बाहर आने के बाद भी उन पर आरोप लगाने और छवि को खराब करने का काम जारी है।

वकील सतीश मानशिंदे ने मीडिया के एक हिस्से की भूमिका की सख्त आलोचना करते हुए कहा कि रिया उन सभी बेवकूफों से लड़ेंगी, जो उनकी छवि को खराब करने में लगे हैं। ऐसे बेशर्म लोग आज साक्षात्कार के लिए मेरे ऑफिस के बाहर लाइन लगाए हुए हैं।

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड की आरोपी Manju Verma पर सीएम नीतीश मेहरबान, चेरिया बरियारपुर से दिया टिकट

इसलिए पड़ी जांच एजेंसियां पीछे

वरिष्ठ वकील मानशिंदे ने बताया कि कुछ लोग केवल टीआरपी के लिए रिया के पीछे पड़े थे। उन्होंने कहा कि रिया के पीछे पड़ने की वजह सिर्फ इतनी है कि सुशांत का परिवार उनसे बदला चाहता है। जबकि मैं शुरू से कहता आ रहा हूं कि सीबीआई, एनसीबी और ईडी रिया के पीछे इसलिए पड़ी है, क्योंकि वह सुशांत सिंह राजपूत की प्रेमिका और वह लिव-इन पार्टनर थी।

1 माह बाद अपने बिस्तर पर सोने का मिलेगा मौका

रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मानेशिंदे ने कहा था कि वह करीब एक माह बाद अपने बिस्तर पर सो सकेगी और चैन की नींद ले पाएगी।

Bihar Election : पर्चा भरने के बाद बाहुबली नेता अनंत सिंह बोले - चुनाव के बाद नीतीश का जेल जाना तय

10 दिनों में पासपोर्ट जमा करने का निर्देश

बता दें कि बॉम्बे उच्च न्यायालय द्वारा बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को सशर्त जमानत दिए जाने के बाद उन्हें भायखला जेल से रिहा कर दिया है। फिलहाल बॉंम्बे उच्च न्यायालय ने रिया को 10 दिनों के अंदर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरों के दफ्तर में उपस्थित होने और जांच अधिकारियों के समक्ष पासपोर्ट जमा करने के निर्देश दिए हैं। रिया के अलावा दीपेश सावंत और सैमुअल मिरांडा को भी बुधवार को जमानत दे दी गई है।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned