एयरो इंडिया 2019 के आयोजन स्थल को लेकर सस्पेंस खत्म, यूपी नहीं बेंगलुरु में ही होगा आयोजित

एयरो इंडिया 2019 के आयोजन स्थल को लेकर सस्पेंस खत्म, यूपी नहीं बेंगलुरु में ही होगा आयोजित

Kapil Tiwari | Publish: Sep, 08 2018 03:45:06 PM (IST) | Updated: Sep, 08 2018 03:45:07 PM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

आपको बता दें कि इस प्रदर्शनी का आयोजन साल 1996 से बेंगलूरु में होता आया है और इस बार भी इसमें कोई बदलाव नहीं किया जा रहा है।

बेंगलुरु। एशिया की सबसे बड़ी विमानन प्रदर्शनी यानि कि एविएशन एग्जिबिशन 'एयरो इंडिया' को लेकर बना हुआ सस्पेंस आखिरकार खत्म हो गया है। दरअसल, इस प्रदर्शनी के आयोजक स्थल को लेकर अभी तक विवाद बना हुआ था। माना जा रहा था कि इस बार ये प्रदर्शनी उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में होगी, क्योंकि खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसकी मांग की थी, लेकिन अब ये तय हो गया है कि एयरो इंडिया का आयोजन बेंगलुरु में ही होगा।

1996 से बेंगलुरू में ही होता आया है 'एयरो इंडिया'

रक्षा मंत्रालय ने शनिवार को स्पष्ट कर दिया कि एयरो इंडिया का आयोजन कहीं और नहीं बल्कि बेंगलूरु स्थित यलहंका वायुसैनिक हवाई अड्डे पर ही होगा। आपको बता दें कि इस प्रदर्शनी का आयोजन साल 1996 से बेंगलूरु में होता आया है और इस बार भी इसमें कोई बदलाव नहीं किया जा रहा है। हालांकि इस बार इसे यूपी में कराने की मांग की गई थी।

20 फरवरी से 24 फरवरी के बीच होगा एयरो इंडिया

रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि बेंगलूरु के यलहंका वायुसैनिक अड्डे पर 12 वें एयरो इंडिया का आयोजन 20 फरवरी से 24 फरवरी के बीच होगा। पांच दिनों तक चलने वाली इस प्रदर्शनी में रक्षा उपकरणों की प्रदर्शनी के साथ-साथ हर बार की तरह इस बार भी एयर शो का आयोजन किया जाएगा, जिसका लुत्फ आम आदमी उठा सकेंगे। इस प्रदर्शनी में विमानन क्षेत्र की अग्रणी वैश्विक कंपनियों और निवेशकों के अलावा दुनिया भर के थिंक-टैंक भी शिरकत करेंगे। इससे विमानन क्षेत्र में हो रही प्रगति और नए विचारों को साझा करने में मदद मिलेगी। रक्षा मंत्रालय को उम्मीद है कि केंद्र सरकार के कार्यक्रम मेक इन इंडिया को भी इससे बढ़ावा मिलेगा।

एयरो इंडिया के शिफ्ट होने की खबरों के बीच शुरू हो गया था विरोध-प्रदर्शन

इससे पहले एयरो इंडिया को लेकर उस वक्त विवाद गहरा गया था, जब इसे बेंगलूरु से स्थानांतरित कर लखनऊ स्थित बक्षी का तालाब (बीकेटी) हवाई अड्डे पर ले जाने की खबर आई, लेकिन बेंगलुरू के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने इस संदर्भ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन सहित राज्य के सभी सांसदों को पत्र लिखा। वहीं, कांग्रेस नेताओं ने भी इसका मुखर विरोध किया। स्थानांतरण की खबर पर शहर में जगह-जगह विरोध प्रदर्शन भी हुए। दूसरी तरफ, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुलकर एयरो इंडिया की मेजबानी की मांग की थी।

जानें 'एयरो इंडिया' इवेंट के बारे में

दरअसल, एयरो इंडिया का आयोजन वर्ष 1996 से हर दूसरे साल बेंगलूरु के यलहंका हवाई अड्डे पर होता रहा है। पिछली बार एयरो इंडिया वर्ष 2017 में 14 से 18 फरवरी के दौरान किया गया था। अगली बार यह वर्ष 2019 में 20 से 24 फरवरी के बीच होगा।

Ad Block is Banned