भारत में लदने वाले हैं कोरोना वायरस के दिन, एक स्टडी की रिपोर्ट में आई खुशखबरी

Highlight

- कोरोना वायरस मई के तीसरे हफ्ते तक अपने चरम पर रहेगा

- तीसरे हफ्ते के बाद इसका असर कम हो सकता है

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus ) महामारी को लेकर एक राहत भरी खबर आई है। दरअसल, पूरी दुनिया में हर कोई कोरोना के खात्मे का इंतजार कर रहा है। हिंदुस्तान में अगर सबकुछ ठीक रहा तो बहुत जल्द लोगों को कोरोना से राहत मिल जाएगी। दरअसल, इस जानलेवा वायरस का प्रकोप मई के बाद भारत में कमजोर पड़ सकता है। एक ताजा स्टडी की रिपोर्ट से पता चला है कि मई के तीसरे हफ्ते तक कोरोना संक्रमण तेजी से भारत को अपनी चपेट में लेगा। तीसरे हफ्ते तक कोरोना का प्रभाव अपने चरम पर होगा, लेकिन उसके बाद यह कमजोर पड़ सकता है। हालांकि, रिपोर्ट में साफ कहा गया है कि लॉकडाउन और रोकथाम के अन्य उपायों का पालन करने से ही कोरोना का आतंक कमजोर पड़ सकता है।

रिपोर्ट में कोरोना संक्रमण की रफ्तार का अनुमान

यह रिपोर्ट 16 अप्रैल को सामने आई है। स्टडी में देश में कोरोना से संबंधित कुछ संभावनाओं का जिक्र किया गया है। स्टडी इस बात का पता लगाने के लिए की गई कि भारत में कोरोना के फैलने की रफ्तार क्या रहेगी और इसका सबसे टॉप लेवल कब आएगा।

8 राज्यों और 3 टॉप कोरोना हॉटस्पॉट की हुई स्टडी

मीडिया रिपोर्ट्स में इस स्टडी के हवाले से बताया गया कि 8 राज्यों और देश के टॉप 3 हॉटस्पॉट में मिले डेटा का इस्तेमाल करके यह रिपोर्ट तैयार की गई है। इसमें केंद्र सरकार की ओर से जारी किए आंकड़ों, सरकारी बुलेटिनों और स्वास्थ्य मंत्रालय के अपडेट का अध्ययन किया गया है। इसके साथ ही स्टडी में विदेश के ट्रेंड को भी ध्यान में रखकर अनुमान लगाया गया है। हालांकि, अभी भी यह गुंजाइश दी गई है कि रिपोर्ट के तथ्यों में आगे बदलाव हो सकता है। कहा गया है कि कोरोना पर डेटा रोज बदल रहे है, ऐसे में ये रिपोर्ट शत-प्रतिशत सही होने का दावा नहीं करता है।

रोकथाम के लिए ऐहतियात ही उपाय

इसके साथ ही रिपोर्ट में और अन्य विशेषज्ञों का कहना है कि आगे भारत में कोरोना से कैसी स्थिति बनेगी, यह 20 अप्रैल के बाद ही अंदाजा लगाया जा सकता है। ऐसा कहा जा रहा है कि फिलहाल देश में लॉकडाउन है, इसके बाद लोग कैसे ऐहतियात बरतते हैं उसपर ही आगे की स्थिति निर्भर करती है। डॉक्टरों का भी यह मानना है कि हर देशवासी के ऐहतियात बरतने के बाद ही पता चलेगा कि कोरोना के मामले कितने घटते हैं।

coronavirus कोरोना वायरस
Show More
Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned