AIIMS Director Dr. Guleria की चेतावनी- कोरोना की दूसरी लहर में तेजी, ऐसे करें अपना बचाव

  • भारत में कोरोना रोगियों ( Coronavirus Case in India ) की संख्या 80 लाख का आंकड़ा पार
  • दिल्ली ( Coronavirus in Delhi ) में कोविड-19 की तीसरी लहर की चर्चा जोर पकड़ गई

 

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस ( Coronavirus in india ) का संक्रमण कम होने का नाम नहीं ले रहा है। यही वजह है कि भारत में कोरोना रोगियों ( Coronavirus Case in India ) की संख्या 80 लाख का आंकड़ा पार कर गई है। वहीं, अगर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली ( Coronavirus in Delhi ) की बात करें तो यहां कोविड-19 की तीसरी लहर की चर्चा जोर पकड़ गई है। इसको लेकर एम्स के डायरेक्टर डॉक्टर गुलेरिया ( AIIMS Director Dr. Guleria ) ने लोगों को चेताया है। एक न्यूज चैनल के साथ बातचीत में उन्होंने कहा कि फिलहाल कोरोना की दूसरी ही लहर है, लेकिन अब इसमें अचानक तेजी आती जा रही है। डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि कोरोना मामलों में तेजी की वजह लोगों की लापरवाही और सावधानी न बरतना भी है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग ( Social Distancing ) और मास्क पहनने की अनदेखी की गई है।

Jammu-Kashmir: पाकिस्तान ने पुंछ में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया

कोरोना वायरस अभी खत्म नहीं हुआ

डॉक्टर गुलेरिया ने कोरोना केसों में आई तेजी की वजह मौसम में आए परिवर्तन और प्रदूषण को भी बताया है। उन्होंने कहा कि प्रदूषण के कारण कोविड का वायरस अधिक समय तक हवा में बना रहता है। इसके अलावा प्रदूषण और वायरस दोनों ही फेफड़ों को नुकसान पहुंचाते हैं। डॉ. गुलेरिया ने साफ कहा कि कोरोना वायरस अभी खत्म नहीं हुआ है। उन्होंने यूरोप और दूसरे देशों का जिक्र करते हुए कहा कि कोरोना काल में अवश्य पहनें और बहुत जरूरी काम होने पर ही बाहर जाएं। उन्होंने कहा कि इस दौरान अगर थोड़ी भी लापरवाही बरती गई तो इसके गंभीर परिणाम देखने को मिलेंगे।

राजद के 'जंगलराज' की याद दिलाएगा भाजपा का चुनाव प्रचार रथ: भूपेंद्र यादव

बाहर जाने से परहेज करें

एम्स के डायरेक्टर ने आगे कहा कि देश को युवा इस समय कोरोना वायरस को लेकर लापरवाह हैं। ऐसे में उनमें कोरोना वायरस के हल्के लक्षण दिखाई दे सकते हैं। ऐसे केसों हमें कुछ करने की जरूरत नहीं हैं। लेकिन जो वायरस युवा अपने घर ले जा रहे है, उससे घर के बुजुर्ग और बच्चे दोनों प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि वैक्सीन आने के बाद में कोरोना केसों में गिरावट देखने को मिलेगी। डॉ. गुलेरिया का कहना है कि फिलहाल प्रदूषण और कोरोना के रूप में हमारे सामने दोहरी चुनौती है। इसलिए बाहर जाने से परहेज करें या फिर मास्क या फेस कवर पहन कर ही बाहर जाएं।

Coronavirus in india Coronavirus In India in Hindi कोरोना वायरस
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned