Corona, भीषण गर्मी के बाद दिल्ली पर एक और सितम, लोगों को सांस लेना हो सकता है मुश्किल

  • coronavirus, भीषण गर्मी के बाद दिल्ली ( Delhi ) पर मंडराया एक और खतरा
  • Lockdown में ढील देते ही बढ़ा वायु प्रदूषण का स्तर
  • मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

नई दिल्ली। देश में इन दिनों ऐसा लग रहा है जैसे संकटों का पहाड़ टूट पड़ा है। पहले coronavirus, फिर भीषण गर्मी ( Heat Wave ), चक्रवाती तूफान ( Cyclone ), टिड्डियों ( Locusts ) के कारण तबाही मची है। वहीं, अब राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली ( Delhi ) पर एक और संकट मंडराने वाला है। कोरोना, गर्मी से जूझ रहे दिल्लीवासियों को अब सांस लेने में भी मुश्किल हो सकती है। दरअसल, लॉकडाउन ( Lockdown 4.0 ) में छूट मिलते ही दिल्ली में अचानक वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ने लगा है।

दिल्ली में वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ा

जानकारी के मुताबिक, जैसे ही देश में लॉकडाउन लागू हुआ था दिल्ली की हवा काफी बेहतर होने लगी थी। लेकिन, लॉकडाउन में छूट मिलते ही वायु प्रदूषण का स्तर पुराने रूप में आने लगा है। रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली का एयर क्वालिटी ( Air Quality ) इंडेक्स 128 पर पहुंच गया है। संवदेनशील लोगों के स्वास्थ्य के लिए यह आंकड़ा अच्छा नहीं माना गया है। सिस्‍टम ऑफ एयर क्‍वालिटी एंड वेदर फोरकॉस्‍ट एंड रिसर्च (SAFAR) का कहना है कि दिल्‍ली में PM10- 141 रिकार्ड किया गया है, जबकि पीएम 2.5 करीब 54 रिकार्ड किया गया है।

लोगों को सांस लेने में हो सकती है दिक्कत

SAFAR का कहना है कि अगले 48 घंटे में हवा की रफ्तार और बढ़ सकती है। जिसके कारण वातावरण में धूल बढ़ेगी और एयर क्‍वालिटी के मानकों में भी गिरावट आएगी। SAFAR का साफ कहना है कि 26 मई को दिल्‍ली में PM 10 का स्‍तर 243 तक पहुंच सकता है, जिसके कारण लोगों को सांस लेने में काफी दिक्कतें हो सकती है। वहीं, पीएम 2.5 का स्‍तर 54 से बढ़कर 94 तक पहुंच सकता है। पीएम 2.5 के इस स्‍तर को खराब श्रेणी में गिना जाता है। संस्था का यह भी कहना है कि 28 मई को हवा की दिशा में बदलाव के बाद दिल्‍ली के वातावरण पर प्रतिकूल असर पड़ सकता है। लिहाजा, लोगों को सावधान रहने के लिए कहा गया है।

Show More
Kaushlendra Pathak Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned