अजित पवार ने रेल मंत्री से की मांग, लॉकडाउन खत्म होने के बाद मजदूरों के लिए चलाएं स्पेशल ट्रेनें

Highlight

- अजित पवार ने रेल मंत्री को लिखी है चिट्ठी

- उद्धव ठाकरे भी मजदूरों को घर भेजने की कर चुके है मांग

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( CoronaVirus ) के चलते पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है। ऐसे में देश के अलग-अलग राज्यों में मजदूर जहां की तहां फंसे हुए हैं। इन मजदूरों की परेशानी की चिंता अब सरकारों को होने लगी है। महाराष्ट्र में भी लाखों मजदूर फंसे हुए हैं, जिनको लेकर राज्य के डिप्टी सीएम अजित पवार ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को एक चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी में अजित पवार ने फंसे हुए मजदूरों को घर भेजने के लिए रेल मंत्री की मदद मांगी है।

लॉकडाउन खत्म होने के बाद सरकार चलाए विशेष ट्रेनें- अजित पवार

जानकारी के मुताबिक, इस चिट्ठी में अजित पवार (Ajit Pawar) ने मांग की है कि 3 मई को लॉकडाउन खत्म होने के बाद दूसरे राज्यों के कामगारों और मजदूरों को उनके घर भेजा जाए और इसके लिए रेल मंत्रालय विशेष ट्रेनों का इंतजार करे। आपको बता दें कि उद्धव ठाकरे फंसे हुए मजदूरों को उनके घर भेजने की मांग कर चुके हैं। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Aditanath) भी कह चुके हैं कि अगर दूसरे राज्यों की सरकारें लोगों को ले जाना चाहें तो वह उन्हें भेजने का इंतजाम करेंगे।

इंतजाम नहीं हुआ तो कानून व्यवस्था बिगड़ सकती है- अजित पवार

अजित पवार ने चिट्ठी में लिखा है कि दूसरे राज्यों के लोगों को ले जाने के लिए मुंबई और पुणे से स्पेशल ट्रेन चलाई जाएं। अजित पवार के मुताबिक, अगर इन लोगों को घर नहीं भेजा जाता है तो कानून व्यवस्था बिगड़ सकती है। एक आधिकारिक बयान के अनुसार, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता अजित पवार ने पीयूष गोयल को लिखे पत्र में कहा कि महाराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों में फंसे प्रवासी कामगार लॉकडाउन खत्म होने के बाद अपने घरों को जाने के लिए बड़ी संख्या में बाहर निकल सकते हैं। उन्होंने कहा कि इससे कानून-व्यवस्था की समस्या खड़ी हो सकती है। अजित पवार ने कहा कि इससे बचने के लिए रेल मंत्रालय को विशेष ट्रेनें चलानी चाहिए।

'लोग सुरक्षित अपने घरों तक पहुंच सकें'

इस चिट्ठी में अजित पवार ने 14 अप्रैल को बांद्रा में जुटी भीड़ का भी जिक्र किया है। उन्होंने कहा है, 'कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए लोगों को सुरक्षित उनके घरों तक पहुंचाया जा सकता है। इसके लिए जरूरी है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद रेल मंत्रालय की ओर से स्पेशल ट्रेन चलाई जाए।'

आपको बता दें कि देशव्यापी लॉकडाउन 14 अप्रैल को खत्म होना था लेकिन इसे 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया।

Show More
Kapil Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned