Anil Deshmukh बोले - भंडारा अग्निकांड की होगी उच्च स्तरीय जांच, दोषियों को मिलेगी सख्त सजा

  • दर्दनाक हादसे के जिम्मेदार लोगों को मिलेगी सख्त सजा।
  • मृतक बच्चों के परिजनों को मिले 10 लाख मुआवजा।

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के भंडारा जिले के एक सामान्य अस्पताल में हुए दर्दनाक हादसे में 10 बच्चों की मौत के बाद महाराष्ट्र सरकार ने इस मामले की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। प्रदेश सरकार में गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि सरकार ने घटना की उच्चस्तरीय जांच होगी। लापरवाही के लिए जिम्मेदार पाए जाने वालों को सख्त सजा दिलाई जाएगी। उन्होंने इस हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि हम मृतक बच्चों के परिजनों के साथ हैं।

दोषियों के खिलाफ दर्ज हो हत्या का मामला

इससे पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने इस दर्दनाक हादसे की उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की थी। उन्होंने जिम्मेदार लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने का भी सुझाव दिया है। मृतक बच्चों के परिवार को सरकार की ओर से 10 लाख का मुआवज़ा दिया जाना चाहिए।

बता दें कि महाराष्ट्र के भंडारा जिले के एक सरकारी अस्पताल में बच्चों के वार्ड में बीती रात आग लगने की घटना दर्दनाक हादसे में तब्दील हो गई। आग बीती रात दो बजे लगी। आग में 10 नवजात बच्चों की जिंदा जलकर मौत हो गई है। बच्चों की उम्र 1 दिन से लेकर 3 महीने तक बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि लापरवाही की वजह से यह घटना हुई है।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned