अन्ना हजारे ने फिर भरी हुंकार, मोदी सरकार के खिलाफ करेंगे भूख हड़ताल

समाजसेवक अन्ना हजारे 2 अक्टूबर यानि गांधी जयंती के दिन से जनलोकपाल को लेकर भूख हड़ताल करेंगे।

By: Saif Ur Rehman

Published: 30 Jul 2018, 07:37 AM IST

इंडिया की अन्‍य खबरें

नई दिल्ली। समाजसेवक अन्ना हजारे ने एक बार फिर से हुंकार भरी है। अन्ना हजारे मोदी सरकार के खिलाफ फिर से मोर्चा खोलने जा रहे हैं। अन्ना हजारे 2 अक्टूबर यानि गांधी जयंती के दिन से भूख हड़ताल पर बैठेंगे। उनकी ये भूख हड़ताल जनलोकपाल को लेकर होगी। रविवार को अन्ना हजारे ने इस बात का ऐलान कर दिया। अन्ना का ये आंदोलन केंद्र सरकार के खिलाफ होगा। इस ऐलान के साथ ही अन्ना ने लोगों से भी अपील की है कि वे देश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के उनके अभियान में उनका साथ दें। हजारे ने कहा, 'मैं महाराष्ट्र में अहमदनगर जिले के अपने गांव रालेगण सिद्धि में दो अक्टूबर, महात्मा गांधी जयंती से भूख हड़ताल करूंगा।' उन्होंने एनडीए सरकार की निन्दा की और कहा कि सरकार ने पहले आश्वासन दिया था कि वह लोकपाल की नियुक्ति करेगी और संसद द्वारा पारित एवं राष्ट्रपति द्वारा जनवरी 2014 में हस्ताक्षरित लोकपाल विधेयक को क्रियान्वित करेगी, लेकिन भ्रष्टाचार पर रोक लगाने को लेकर इस सरकार के पास इच्छाशक्ति की कमी है और इसलिए यह बहुत से कारण बता रही है और लोकपाल की नियुक्ति में देरी कर रही है।'आपको बता दें कि 2011 में लोकपाल को लेकर ही अन्ना ने 12 दिन तक भूख हड़ताल की थी। उस समय केंद्र में यूपीए की सरकार थी और उस आंदोलन ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। हजारे के अनशन को पूरे देश में व्यापक जन-समर्थन मिला था।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned