ट्रैक्टर परेड में हिंसा को लेकर एक और जनहित याचिका दायर, दिल्ली पुलिस पर कार्रवाई की मांग

  • ये जनहित याचिका दिल्ली सिटीजन फोरम फॉर सिविल राइट्स ने हाईकोर्ट में दायर की है
  • इस याचिका में हिंसा को रोकने में नाकामयाब रहे पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई है

नई दिल्ली। किसान आंदोलन के दौरान ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा और किसानों के कब्जे से सभी सड़कों व सार्वजनिक स्थानों को मुक्त करवाने के साथ लालकिले की घटना के लिए पुलिस आयुक्त को जिम्मेदार ठहराते हुए उनको हटाने की मांग वाली एक जनहित याचिका हाईकोर्ट में दाखिल की गई है। इस याचिका पर सुनवाई करने के लिए कोर्ट ने 1 फरवरी की तारीख तय की है।

Tractor Parade: दिल्ली में हिंसा के बाद पंजाब और हरियाणा में हाई अलर्ट, राजधानी में बढ़ाई गई सुरक्षा

मिली जानकारी के मुताबिक, ये जनहित याचिका दिल्ली सिटीजन फोरम फॉर सिविल राइट्स ने हाईकोर्ट में दायर की है। इस याचिका में हिंसा को रोकने में नाकामयाब रहे पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई है।कोर्ट में दाखिल याचिका में यह भी कहा गया है किसानों के प्रदर्शन के नाम पर तोड़फोड़ की गई।उपद्रवीयों ने लाल किले पर निशान साहिब का झंडा फहराया और पुलिस तमाशा देखती रह गई। इन सभी लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई किए जाने की जरूरत है क्योंकि यह देश के गौरव से जुड़ा हुआ मामला है।

Tractor rally violence : ट्रैक्टर रैली में हिंसा के बाद ट्विटर का बड़ा कदम, 550 अकाउंट किए सस्पेंड

बता दें बीते दिन यानी बुधवार को भी दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर हुई थी। इसें दिल्ली पुलिस कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव को तुरंत बर्खास्त करने करने के साथ ही लाल किले की सुरक्षा के लिए पैरामिलिट्री फोर्स को तैनात करने की मांग की गई थी।

धनंजय जैन नाम के शख्स ने अधिवक्ता भूप सिंह के जरिये दायर याचिका में कोर्ट से आग्रह किया था कि 26 जनवरी को दिल्ली में अराजकता का माहौल दिखा, उससे यह साफ हो गया कि दिल्ली पुलिस कानून-व्यवस्था को बनाए रखने में पूरी तरह से नाकाम रही। इस तरह की घटना से निपटने के लिए उनके पास कोई प्लान ही नहीं था। इससे साफ पता चलता है कि उन्होंने इस रैली को लेकर कोई तैयारी नहीं की थी।

Tractor Rally : हिंसा को लेकर किसान नेताओं ने मांगी माफी, खुद को उपद्रवियों से किया अलग

इसके साथ ही याचिका में कहा गया था कि आदालत केंद्र सरकार को निर्देश जारी करें कि वह किसान आंदोलन की आड़ में बैठने वाले लोगों को तुरंत हटाए और सभी सड़कों और सार्वजनिक स्थानों को साफ करे ।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned