पीएम मोदी को मिले तोहफों की नीलामी 14 सितंबर को, गंगा के लिए खर्च होगा पैसा

पीएम मोदी को मिले तोहफों की नीलामी 14 सितंबर को, गंगा के लिए खर्च होगा पैसा

  • नीलामी में होंगे 2700 से ज्यादा तोहफे
  • 200 से लेकर 2.5 लाख रुपए तक होगी कीमत
  • इसी साल जनवरी में भी की गई थी नीलामी

पीएम नरेंद्र मोदी को देश में मिले तोहफों की नीलामी करके मिले पैसे को गंगा की सफाई पर खर्च किया जाएगा। तोहफों की नीलामी 14 सितंबर को होगी। संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल के अनुसार- उपहारों की नीलामी से मिली राशि को गंगा सफाई पर खर्च किया जाएगा। नीलामी ऑनलाइन पोर्टल के जरिए की होगी। इस दौरान 2700 से ज्यादा उपहारों की नीलामी की जाएगी।

ब्रह्मांड में Earth 2.0 मौजूद! पहली बार एक ग्रह पर मिला पानी, हाइड्रोजन और हीलियम

बता दें, विभिन्न संगठनों और मुख्यमंत्रियों की ओर से पीएम को कुल 2,772 उपहार दिए गए हैं। इनमें शॉल, तस्वीरें और तलवारें शामिल हैं। नेशनल गैलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट्स (NGM) में उपहारों का प्रदर्शन किया जा रहा है।

प्रह्लाद पटेल के अनुसार- ‘पीएम को पिछले छह महीनों में मिले तोहफों को ही नीलाम किया जाएगा। मैं प्रधानमंत्री को इसके लिए धन्यवाद देना चाहता हूं। उपहारों में स्मृति चिह्न का न्यूनतम मूल्य 200 और अधिकतम 2.5 लाख रुपए है।’ सिल्क पर बनाई गई मोदी की तस्वीर की कीमत सबसे ज्यादा रखी गई है। इसे सीमत्ती टेक्सटाइल की मालिक बीना कन्नन ने दिया था।

अब अरुण जेटली स्टेडियम के नाम से जाना जाएगा फिरोज शाह कोटला, विराट के नाम पर स्टैंड

नीलाम किए जाने वाले उपहारों में 576 शॉल, 964 अंगवस्त्र, 88 पगड़ियां और भारत की विविधता को दर्शाती कई जैकेट्स हैं। मंत्री ने कहा कि एनजीएमए में प्रदर्शित होने वाली नीलामी की वस्तुओं को हर 15 दिनों में बदल दिया जाएगा।

बता दें, इसी साल जनवरी में भी प्रधानमंत्री को मिले तोहफों की नीलामी की गई थी। इसमें 1800 उपहारों को बेचा गया था। जिनके लिए करीब चार हजार लोगों ने बोली लगाई थी। इससे मिले पैसे को भी केंद्र सरकार की योजना गंगा सफाई में लगाया गया था।

PoK पर बोले आर्मी चीफ बिपिन रावत, कहा- 'सरकार ले फैसला, सेना है तैयार'

एक मीडिया रिपोर्ट में अधिकारियों के हवाले से कहा गया है कि- ई-नीलामी में बेचने के लिए कारीगरों की ओर से बनाई गई बीएमडब्ल्यू कार का लकड़ी का प्रतिरूप सबसे महंगा स्मृति चिह्न था। इसकी कीमत 5 लाख रुपए थी। हालांकि, जनवरी की नीलामी के दौरान मिली कुल राशि के बारे में नहीं बताया गया है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned