Ayodhya: राम मंदिर के भव्य भूमि पूजन की तैयारी, जानिए क्या होगा खास

  • आगामी पांच अगस्त ( 5 August ) को राम मंदिर ( Ram Temple ) के भूमि पूजन में पीएम मोदी ( pm modi ) समेत 50 VVIP हो सकते हैं शामिल
  • भूमि पूजन ( bhoomi pujan ) का प्रसारण दिखाने के लिए अयोध्या ( Ayodhya ) में कई स्थानों पर पांच-छह बड़े स्क्रीन लगाए जाएंगे।
  • सोशल डिस्टेंसिंग का पालन और कोरोना को लेकर सभी सावधानियां बरती जाएंगी।

 

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के अयोध्या ( Ayodhya ) में आगामी 5 अगस्त ( 5 August ) को राम मंदिर ( Ram Temple ) के भूमि पूजन ( bhoomi pujan ) के लिए भव्य तैयारियां की जा रही हैं। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के मुताबिक इस भव्य आयोजन का पूजन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( pm modi ) करेंगे। बहरहाल, अभी तक प्रधानमंत्री कार्यलाय की ओर से इसकी पुष्टि नहीं की गई है।

सूत्रों की माने तो राम मंदिर ( Ram Mandir ) आंदोलन से जुड़े सभी वरिष्ठ भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को भूमि पूजन में आमंत्रित किया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक कार्यक्रम में लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी जैसे नेताओं को बुलाया जाएगा।

खबर तो ये भी है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत 50 VIP इस महा-आयोजन में शामिल हो सकते हैं। इसके अलावा, राम मंदिर आंदोलन में सक्रिय रहीं उमा भारती, विनय कटियार, साध्वी ऋतंभरा को भी आमंत्रित किया जाएगा। विश्व हिंदू परिषद की ओर से आलोक कुमार और मिलिंद परांदे कार्यक्रम में शामिल हो सकते है। संघ प्रमुख मोहन भागवत और अन्य वरिष्ठ नेताओं के शामिल होने की भी संभावना जताई जा रही है।

दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा मंदिर होगा राम मंदिर, अगस्त के पहले हफ्ते से शुरू हो जाएगा निर्माण

सूत्रों के मुताबिक भूमि पूजन के महाआयोजन में 50 से अधिक वीवीआईपी ही शामिल हो सकेंगे। खबर है कि गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी इसमें शामिल हो सकते हैं। इस समारोह में पूरी तरह से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा। अयोध्या के पांच से छह क्षेत्रों में बड़े स्क्रीन लगाए जाएंगे ताकि श्रद्धालु भी भूमि पूजन का आनंद उठा सकें।

शनिवार को अयोध्या में राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक हुई। ये बैठक करीब ढाई घंटे तक चली। इसमें अभी मंदिर परिसर में जमीन को बराबर करने और पैमाइश का काम चल रहा है। निर्माण का काम प्रधानमंत्री के भूमि पूजन के बाद ही शुरू किया जाएगा।

भूमि पूजन में 40 किलो चांदी की ईंट

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष नृत्यगोपाल दास के उत्तराधिकारी महंत कमल नयन दास की मानें तो भूमि पूजन के अनुष्ठान 3 अगस्त से ही शुरू कर दिए जाएंगे और काशी के विद्वान पंडितों द्वारा इसे पूरा किया जाएगा। कोरोना महामारी के चलते आयोजन में सीमित संख्या में लोग ही आएंगे।

5 अगस्त के पहले राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे पीएम मोदी

उन्होंने यह भी कहा कि पीएम मोदी 40 किलो की चांदी की ईंट रखकर इसका शुभारंभ करेंगे। जमीन से साढ़े तीन फिट अंदर रखी जाने वाली इसे ईंट में नक्षत्रों का प्रतीक बना होगा।

प्रस्तावित मंदिर में एक विश्व स्तरीय संग्रहालय भी बनाया जाएगा। यहां पर लोग राम जन्मभूमि स्थल से खुदाई में मिलीं पुरातात्विक कलाकृतियों को देख सकेंगे।

pm modi Ram Mandir
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned