Baba Ramdev की कंपनी Patanjali ने सौंपे कागजात, Ministry of AYUSH ने बैठाई जांच

  • Patanjali द्वारा निर्मित Coronavirus की Ayurvedic medicine Coronil के प्रचार पर रोक जारी
  • Patanjali Ayurved Limited ने Corona medicine संबंधी सारे कागजात Ministry of AYUSH
    को सौंपे

नई दिल्ली। योग गुरु बाबा रामदेव ( Yoga guru Baba Ramdev ) की कंपनी पंतजली ( Patanjali Ayurved Limited ) द्वारा निर्मित कोरोना वायरस ( coronavirus ) की कथित आयुर्वेदिक दवा कोरोनिल ( Ayurvedic medicine Coronil ) के प्रचार पर केंद्र सरकार के आयुष मंत्रालय ( Ministry of AYUSH ) ने रोक लगा दी है। इसके साथ ही मंत्रालय ने पंतजलि प्राइवेट लि. ( Patanjali Ayurved Limited ) को नोटिस देकर कोरोना की दवा ( Corona medicine ) के निर्माण संबंधी सभी कागजात पेश करने को कहा। वहीं, कंपनी ने दवा संबंधी सारे कागजात Ministry of AYUSH को सौंप दिए हैं। अब मंत्रालय ने इन कागजों की जांच करने की बात कही है। फिलहाल आयुष मंत्रालय ने दवा की जांच होने तक पतंजलि की ओर से तैयार दवा कोरोनिल के विज्ञापन पर रोक लगा दी है।

Delhi में 48 घंटे के भीतर दस्तक देगा मानसून, UP, Uttarakhand समेत इन राज्यों में बरसेंगे बदरा

 

iiii.png

मंत्रालय ने बाबा रामदेव की कंपनी से दवा के बारे में पूरी जानकारी उपलब्ध कराने को कहा है। पूछा है कि उस हास्पिटल और साइट के बारे में भी बताएं, जहां इसकी रिसर्च हुई। वहीं उत्तराखंड सरकार से इस आयुर्वेदिक दवा के लाइसेंस आदि के बारे में जानकारी मांगी है। आयुष मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड हरिद्वार की ओर से कोविड 19 के उपचार के लिए तैयार दवाओं के बारे मे उसे मीडिया से जानकारी मिली। दवा से जुड़े वैज्ञानिक दावे के अध्ययन और विवरण के बारे में मंत्रालय को कुछ जानकारी नहीं है।

Manish Sisodia बोले LG वापस लेें अपना फैसला- Quarantine सेंटर जाने से बढ़ रही मुश्किलें

kkkk.jpg

RIC Meet 2020 में बोले S. Jaishankar- विश्व नेतृत्व की आवाज सबके हित में उठनी चाहिए

आयुष मंत्रालय ने कहा कि संबंधित आयुर्वेदिक दवा निर्माण कंपनी से कहा गया है कि दवाओं के ऐसे विज्ञापनों को ड्रग्स एंड मैजिक रेमेडीज(आपत्तिजनक विज्ञापन) अधिनियम 1954 के प्रावधानों के तहत जांच-परखकर जारी किया जाता है। केंद्र सरकार ने 21 अप्रैल 2020 को एक अधिसूचना जारी कर बताया था कि आयुष मंत्रालय की निगरानी में किस तरह से दवाओं पर रिसर्च किया जा सकता है।

 

coronavirus
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned