बिजली के तार की चपेट में आने से हाथी के बच्‍चे की दर्दनाक मौत, ग्रामीणों की समझदारी से टला बड़ा हादसा

  • West Bengal के अलीपुर द्वार में दर्दनाक हादसा, Baby Elephant Died
  • हाथियों के झुंड ने किया हमला, पेड़ गिरने से बिजली के तार की चपेट में आया हाथी का बच्चा

नई दिल्ली। केरल में हाल में हथिनी ( Baby Elephant Killed )और उसके बच्चे ही विस्फोटक खिलाए जाने के बाद मौत ने पूरे देश को हिला कर रख दिया था। इस घटना के जख्म अभी भरे भी नहीं है कि देश के एक और हिस्से हाथी के बच्चे की दर्दनाक मौत की खबर सामने आई है। पश्चिम बंगाल ( West Bengal ) के एक गांव में हाथी के बच्चे की बिजली के तार के चपेट में आने से मौत हो गई।

वन अधिकारियों ने मिली जानकारी के मुताबिक पश्चिम बंगाल के अलीपुरद्वार जिले के जलदापारा नेशनल पार्क ( Jaldapara National Park ) से सटे एक गांव में हाथियों के झुंड ने हमला किया था। इस हमले की वजह से एक पेड़ गिरने से बिजली का तार टूट कर हाथी के बच्चे पर आ गिरा और उसकी वहीं पर मौत हो गई।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री का बड़ा बयान, अमित शाह को लिखे खत में कोरोना को लेकर कह दी बड़ी बात

वन अधिकारियों ने बताया कि हाथी के बच्‍चे की मौत के बाद गांव वालों ने उनके झुंड को वापस जंगल की ओर खदेड़ दिया। ग्रामीणों की सूज बूझ और जागरूकता के चलते इस घटना में और हाथियों व लोगों की मौत होने से बच गई। अधिकारियों की मानें तो समय पर गांव वाले कदम नहीं उठाते तो कोई बड़ा हादसा भी हो सकता था।

आपको बता दें कि इसके पहले एक घटना में पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी के पास सलुगड़ा में एक कुंए से हाथी के बच्चे और उसकी मां को बचाया गया था।

वन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया था कि हाथी का करीब तीन महीने का बच्चा और उसकी मां एक खाली कुएं में रविवार देर रात गिर गए थे। जो बंगाल सफारी के पास स्थित सेना के शिविर के नजदीक है।

अधिकारी ने बताया था कि उन्हें सुखमा, मल और गोरुमारा के वन कर्मियों ने घंटों की मशक्कत के बाद रविवार-सोमवार की दरमियानी रात करीब तीन बजे कुंए में से सुरक्षित निकाल लिया।

अनलॉक-1 के बीच नई गाइडलाइन ने बढ़ाई मुश्किल, अब सताने लगा इस बात का डर

आपको बता दें कि इससे पहले हाल में उत्तर प्रदेश के बिजनौर में भी हाथी के बच्चे की मौत हो गई थी।
रेहड़ क्षेत्र के अमानगढ़ टाइगर रिजर्व वन रेंज की कक्षा संख्या-9 में एक हाथी के बच्चे का शव मिलने से वन विभाग में हड़कंप मच गया है।

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे वन विभाग के अधिकारियों ने हाथी के बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हाथी के बच्चे की मौत पेट में कीड़े होने की वजह से बताई गई।

Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned