पुलवामा हमले को लेकर बड़ा खुलासा, पाकिस्तान से आया था RDX , ऐसे रची गई थी साजिश

  • Pulwama Attack को लेकर अब तक का सबसे बड़ा खुलासा
  • पाकिस्तान ( Pakistan ) से आया था RDX- रिपोर्ट
  • 'पांच सौ जिलेटिन ( Gelatin ) की हुई थी चोरी'

नई दिल्ली। पूरा देश इन दिनों कोरोना वायरस ( coronavirus ) की चपेट में है। इस खतरनाक वायरस को लेकर चारो तरफ हाहाकार मचा हुआ है। इसी बीच जम्मू-कश्मीर ( Jammu Kashmir ) के पुलवामा हमले ( pulwama attack ) को लेकर अब तक का सबसे बड़ा खुलासा हुआ है। इस अटैक में इस्तेमाल किए गए बारूद की जांच करने वाले अधिकारियों ने खुलासा करते हुए पूरी जानकारी दी है। अधिकारी ने बताया कि किस तरह Pakistan से RDX आया और हमले की साजिश कैसे रची गई।

इस तरह विस्फोटक सामान किया गया इकट्ठा

एक रिपोर्ट के मुताबिक, अधिकारियों ने खुलासा करते हुए कहा कि बम बनाने में इस्तेमाल किए जाने वाले सामानों की चोरी की गई थी। इतने बड़े हमले के लिए आतंकियों ने पत्थर खदानों से तकरीबन पांच सौ जिलेटिन ( Gelatin ) की चोरी की थी। इसके अलावा अमोनियम नाइट्रेट ( Ammonium Nitrate ) और अमोनियम पाउडर आसपास के दुकानों से खरीदा गया। वहीं, RDX पाकिस्तान ( Pakistan ) से मंगाया गया था वह भी छोटी-छोटी मात्रा में। अधिकारी ने बताया कि तकरीबन 70 किलोग्राम अमोनियम नाइट्रेट और अमोनियम पाउडर को स्थानीय बाजार से ही खरीदा गया था। वहीं, 35 किलोग्राम RDX पाकिस्तान से लाया गया था।

कई खुलासे पहले ही हो चुके हैं

गौरतलब है कि फॉरेंसिक विशेषज्ञों ने पहले ही कहा था कि हमले में अमोनियम नाइट्रेट, नाइट्रोग्लिसरीन और आरडीएक्स का इस्तेमाल किया गया था। वहीं, गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हमले के कुछ समय बाद ही NIA ने सभी साक्ष्य इकट्ठे किए थे। इतना ही नहीं विस्फोटक सामग्री कैसे इकट्ठा की गई और उसकी डिलीवरी किसने और किस तरह कराई इसका भी खुलासा हो चुका था। वहीं, जैश के आंतकी चुपके से भारत में दाखिल हुए थे। गौरतलब है कि जिलेटिन की छड़ें खुलेआम बाजार में नहीं मिलती है। सरकार की ओर से केवल मान्यता प्राप्त कंपनी और भूविज्ञान विभाग को यह दी जाती है। लेकिन, इसकी चोरी की खबर अक्सर सामने आती रहती है। गौरतलब है कि 14 फरवरी 2019 को पुलावाा में CRPF के काफिले पर बडा़ आतंकी हमला हुआ था। इस हमले में 40 CRPF के जवान शहीद हो गए थे।

pulwama attack Pulwama
Show More
Kaushlendra Pathak Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned