सुप्रीम कोर्ट से अर्नब गोस्वामी को बड़ी राहत, गिरफ्तारी पर लगाई रोक

  • सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र विधानसभा सचिव को लगाई फटकार।
  • सुनवाई समाप्त होने तक अर्नब की गिरफ्तारी पर रोक।

नई दिल्ली। महाराष्ट्र विधानसभा विशेषाधिकार हनन के मामले में सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने शुक्रवार को रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी को बड़ी राहत दी है। सीजेआई ने यह भी कहा कि इस मामले में याचिकाकर्ता अर्नब गोस्वामी को सुनवाई समाप्त होने तक गिरफ्तार भी नहीं किया जा सकता है।

विधानसभा सचिव से मांगा जवाब

शीर्ष अदालत ने विधानसभा सचिव को फटकार लगाते हुए कहा है कि आप देश के किसी भी नागरिक को सर्वोच्च अदालत में याचिका दायर करने पर रोक कैसे लगा सकते हैं। ये अधिकार आपको किसने दिया। इस मामले में सीजेआई की अध्यक्षता वाली पीठ ने विधानसभा सचिव को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। अदालत ने विधानसभा सचिव को विस्तार में रिपोर्ट देने का आदेश दिया है।

बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा सचिव ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आलोचना के लिए रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस जारी किया था

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned