Bihar Flood: 1000 से ज्यादा गांव जलमग्न, इन इलाकों में मंडराया बाढ़ का खतरा

  • देश भर में मानसूनी वर्षा ( Monsoon Rin in India ) का सिलसिला जारी
  • भारी बारिश ( Heavy Rain ) ने देश भर में कई नदियों का जल स्तर बढ़ा दिया

नई दिल्ली। देश भर में मानसूनी वर्षा ( Monsoon Rain in India ) का सिलसिला जारी है। इस बीच लागातार हो रही भारी बारिश ( Heavy Rain ) ने देश भर में कई नदियों का जल स्तर बढ़ा दिया है। आलम यह है कि ब्रहृमपुत्र ( Brahmaputra ), कोसी ( Kosi ) और गंडक ( Gandak) समेत कई नदियां खतरे के निशान से ऊपरबह रही हैं। जिसके बिहार ( Bihar Flood ) और असम ( Assam Flood ) समेत कई राज्यों में बाढ़ का संकट खड़ा कर दिया है। बाढ़ के कारण इन राज्यों में जहां लाखों लोग बेघर हुए हैं, वहीं कइयों की जान चली गई है। बिहार में बुधवार को ही बाढ़ से छह लोगों की मौत हुई है। जबकि कुदरत के इस कहर से 55 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं।

West Bengal Congress President Somen Mitra का निधन, पार्टी में दौड़ी शोक की लहर

 

l.png

बिहार प्रदेश आपदा विभाग ( Bihar Pradesh Disaster Department ) के अनुसार बाढ़ ने राज्य में तीन और लोगों की जिंदगी लील ली है। तीनों मौत बिहार के दरभंगा जिले में हुईं। इसके साथ ही बिहार में बाढ़ ( Flood in Bihar ) की वजह से मरने वाली की संख्या का आंकड़ा 11 तक जा पहुंचा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक बाढ़ की वजह से बिहार में 12 जिलों के लगभग एक हजार गांव जलमग्न हो चुके हैं।

Corona Case में उछाल के बीच अच्छी खबर, देश में मृत्यु दर अब केवल 2.23 प्रतिशत

d.png

बिहार में कोसी और गंडक नदी में आई बाढ़ के कारण चंपारण और मधुबनी समेत कई इलाके लगभग पानी मं समा चुके हैं। बिहार के जो जिले बाढ़ से सबसे अधिक प्रभावित है उनमें...सिकरहना, लालबेकिया, तिलावे, धनौती, मसान, सीतामढी, लखनदेई, नून, वाया, मुजफ्फरपुर एवं दरभंगा में, मुजफ्फरपुर, रातो, मरहा, मनुसमारा, बागमती, कमला बलान, अधवारा, गंडक, बूढ़ी गंडक, कदाने, समस्तीपुर एवं खगडिया, भागलपुर, दरभंगा और पूर्णिया आदि शामिल हैं।

Maharastra Government ने 31 अगस्‍त तक बढ़ाया lockdown, जानें क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद?

d1.png

India में Corona Infection ने पकड़ी रफ्तार, Andra Pradesh में 24 घंटे में 10,093 नए केस, 65 मौतें

बिहार आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ( Principal Secretary, Bihar Disaster Management Department ) के अनुसार बाढ़ प्रभावित 60,000 परिवारों के अकाउंट में राहत राशि के रूप में 6,000 रूपए डाले गए हैं। बुधवार तक 40,000 लोगों के खाते में राशि अंतरित की जा चुकी थी। उन्होंने बताया कि 8-10 अगस्त तक बाढ़ प्रभावित सभी लोगों के खाते में पैसे डाल दिए जाएंगे।

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned