बिहारः राज्यपाल ने 15 मई से NPR का कार्य शुरू करने के दिए आदेश

  • जनगणना 2021 को लेकर राज्य में शुरू होगा काम।
  • शनिवार को डिप्टी सीएम सुशील ने भी की थी घोषणा।
  • 28 जून तक चलेगा पॉपुलेशन रजिस्टर अपडेट करने का काम।

पटना। बिहार के राज्यपाल फागू चौहान ने रविवार को प्रदेश में राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के कार्य को शुरू करने के लिए हरी झंडी दिखा दी। उन्होंने आदेश दिया है कि प्रदेश में नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर अपडेट करने का काम आगामी 15 मई से शुरू कर दिया जाए।

BIG NEWS: आखिरकार CAA के बारे में बोल ही दिए विराट कोहली, प्रेस कॉन्फ्रेंस में कह दी बड़ी बात

इस संबंध में बिहार के राज्यपाल ने आदेश दिया है कि राज्य में 15 मई से 28 जून तक एनपीआर को अपडेट करने और जनगणना 2021 करने का कार्य किया जाए।

इससे पहले शनिवार को बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा था कि एनपीआर एक वैधानिक कार्य है, और एनपीआर को अपडेट करने का काम राज्य में 15 मई से शुरू होगा।

उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, "यह जनगणना के प्रथम चरण मकान सूचीकरण व मकान गणना के साथ किया जाएगा। एनपीआर को ही अपडेट किया जा रहा है। कोई नया रजिस्टर तैयार नहीं किया जा रहा है। यह जनगणना का ही हिस्सा है। इसमें न कोई दस्तावेज देना है न प्रमाणपत्र। एनपीआर लागू करना राज्यों की बाध्यता है। एनपीआर का निर्माण वैधानिक कार्रवाई है, जिससे कोई राज्य इनकार नहीं कर सकता।"

बड़ी खबरः दिग्गज भाजपा नेता की मुसलमानों को चेतावनी, हम 80 पर्सेंट हैं और तुम 18, मत करो यह काम

उन्होंने कहा कि मनमोहन सिंह के नेतृत्व में संप्रग सरकार के दौरान ही 1 अप्रैल 2010 से 30 सितंबर 2010 तक एनपीआर बनाने का निर्णय लिया गया था। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा, "अगर कुछ प्रश्न जोड़े गए तो इसमें क्या गलत है। इसमें कई गलतियों को भी दूर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसमें भी सभी प्रश्नों के उत्तर देने की बाध्यता नहीं है।"

Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned