बिहार में गर्भवती नर्स की कोरोना से मृत्यु पर बचा हड़कंप

मृतक नर्स के परिवार तथा साथ के स्टाफ ने आरोप लगाया कि नर्स की मृत्यु ऑक्सीजन के अभाव में हुई है।

नई दिल्ली। बिहार के मधुबनी सदर अस्पताल में एक गर्भवती नर्स की कोरोना से मृत्यु होने के बाद हड़कंप मच गया। मृतक नर्स के परिवार तथा साथ के स्टाफ ने आरोप लगाया कि नर्स की मृत्यु ऑक्सीजन के अभाव में हुई है। वह कोरोना से संक्रमित होने के बाद होम आइसोलेशन में रह रही थी। तबियत अधिक बिगड़ने पर उसे रामपट्टी में भर्ती कराया गया जहां गंभीर स्थिति होने पर उसे डीएमसीएच रेफर कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें : 18+ हैं और COVID-19 Vaccine के स्लॉट पाने में हो रही दिक्कत, मदद करेंगी ये वेबसाइट्स

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हॉस्पिटल में ऑक्सीजन नहीं मिलने की वजह से उसकी मौत हो गई। मृत्यु से नाराज परिजनों ने सहयोगी नर्स स्टाफ ने कहा कि वह सात माह की गर्भवती थी तथा उसकी हालत बहुत गंभीर होने के बाद भी उसे ऑक्सीजन सिलेंडर और बेड नहीं दिया गया।

यह भी पढ़ें : कोविड के कारण अप्रैल में व्यापार को 6.25 लाख करोड़ का नुकसान, नेशनल लॉकडाउन लगाने की डिमांड

डॉक्टर्स और नर्सेज की हड़ताल की सूचना मिलते ही सदर सब डिविजनल मजिस्ट्रेट अभिषेक रंजन तथा सिविल सर्जन शैलेन्द्र कुमार वहां पहुंचे तथा हंगामा कर रहे डॉक्टर्स और नर्स से बात की। उन्हें बताया गया कि कोविड ड्यूटी के दौरान भी उनकी सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं किए गए हैं और उन्हें एक महीने की सैलेरी अलग से मिलनी थी जो अभी तक नहीं मिल पाई। बातचीत के बाद दोनों पदाधिकारियों ने उन्हें आश्वासन दिया कि उनकी सभी जायत मांगे पूरी की जाएंगी और उन्हें शांत कराया।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned