अजब प्यार की गजब कहानी- जिस जेल में तैनात था पुलिसकर्मी, वहीं की महिला कैदी में नजर आया चांद और फिर...

''क्या परवान चढ़ा है तेरे इश्क़ का, कि चाँद को देखूं तो तू लगे, तुझे देखूं तो चाँद लगे!"

''क्या परवान चढ़ा है तेरे इश्क़ का, कि चाँद को देखूं तो तू लगे, तुझे देखूं तो चाँद लगे!"

कुछ ऐसा ही देखने को मिला बीते दिन वैलेंटाइन डे पर, जब बिहार पुलिस और एक कैदी का प्यार परवान चढ़ा और इसी प्रेमोत्सव पाए दोनों परिणय सूत्र में बंध गए।

बीते वैलेंटाइन डे पर एक ऐसा मामला सामने आया जब जेल में बंद एक महिला कैदी और उसी जेल में तैनात एक बिहार पुलिस के जवान ने एक दूसरे से शादी कर ली।

- यह कहानी करीब डेढ़ साल पहले से शुरू होती है जब बिहार पुलिस के इनामुल हौदा की पोस्टिंग कटिहार जेल में होती है।
- वहां उसकी मुलाकात अपहरण के मामले में जेल में बंद कैदी सरीफुल खातून से होती है।
Image result for mãos em forma de coração
पहले से शादीशुदा हैं इनामुल हौदा-

- खबर के मुताबिक इनामुल हौदा पहले से शादीशुदा और महिला से उम्र में काफी बड़े हैं।
- इस्लाम धर्म के आधार पर उसने बेल पर जेल से बाहर आई अपनी प्रेमिका से शादी रचा ली है।
- इनामुल का कहना है कि उन्होंने ऐसा अपने परिवार और पहली पत्नी की इजाजत के बाद किया है।
- उन्होंने अपने इस शादी की बात को जायज ठहराते हुए अपने प्यार की दुहाई दी है।

इनामुल के बताया कि इस वैलेंटाइन उन्होंने अपनी प्रेमिका सरीफुल खातून को प्रेम का प्रतीक माना जाने वाला गुलाब देते हुए कहा कि,

- प्यार किसी जाति, मजहब और उम्र का मोहताज नही होता है, यह कभी भी किसी उम्र में हो सकता है।
- इसी के जबाब में उसकी दूसरी पत्नी कहती है की मेरे लिए इनामुल से अच्छा शौहर कोई हो ही नही सकता था।


राहुल
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned