अयोध्या नहीं बीजेपी सांसद सनी देओल ने इस फैसले को बताया ऐतिहासिक

  • गुरदासपुर सांसद सनी देओल का बड़ा बयान
  • बोले- करतापुर कॉरिडोर खुलने से नई सुबह का आगाज
  • पीएम मोदी के साथ छका लंगर

नई दिल्ली। सात दशकों से सिख समुदाय को जिस बात का बेसब्री से इंतजार था वो आज खत्म हो गया। ये बात अयोध्या मामले पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले की नहीं बल्कि श्री गुरु नानक देव जी के 550 वें प्रकार्श पर्व के मौके पर भारत-पाकिस्तान के बीच दरार बनी दीवार को हटाए जाने की शुरुआत की है।

70 साल बाद बना कॉरिडोर
9 नवंबर को श्री गुरु नानक देव जी के 550 वें प्रकाश पर्व के मौके पर भारत-पाकिस्तान के बीच दरार बनी दीवार तोड़ दी गई। यहां करतारपुर साहिब कॉरिडोर खोल दिया गया। करीब 70 साल बाद ये फैसला लिया गया है। खास बात यह है कि इस ऐतिहासिक मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बीजेपी सांसद और अभिनेता से नेता बने सनी दओल प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

अयोध्या मामला, सीजेआई रंजन गोगोई ने बताया क्यों हिंदु पक्ष में आया फैसला

इस मौके पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान के पीएम इमरान खान का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि गुरु नानक देव जी के 550 वें प्रकाश-उत्सव से पहले, इंटीग्रेटेड चेकपोस्ट और करतारपुर साहिब कॉरिडोर का खुलना हम सभी के लिए दोहरी खुशी है। वहीं सनी देओल ने भी इस मौके पर इस पहल को ऐतिहासिक बताया। उन्होंने कहा कि इस गलियारे से एकता की नहीं नई मिसाल रखी जाएगी।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पंजाब के डेरा बाबा नानक पहुंचे। उनके साथ गुरदासपुर से भाजपा के सांसद सन्नी देओल और केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी भी मौजूद रहे।

सनी देओल ने भी छका लंगर
इसी बीच पीएम मोदी और सन्नी देओल ने साथ में लंगर छका। दोनों के इस दौरान की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

धीरज शर्मा
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned