PM Modi ने कहा, हमारा संगठन सिर्फ चुनाव जीतने की मशीन नहीं है, हमारे संगठन का मतलब है 'सेवा'

  • Coronavirus Lockdown के बीच किए सेवा कामों को PM Modi के सामने रख रहीं BJP Unit
  • गृहमंत्री Amit Shah, JP Nadda समेत Senior Leaders मौजूद
  • 22 करोड़ लोगों को कराया भोजन, 2 करोड़ से ज्यादा Mask बांटे

नई दिल्ली। सेवा ही संगठन नामक कार्यक्रम में भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) की प्रदेश इकाइयों ने कोरोना संकट ( coronavirus ) के बीच देशभर में लगाए गए लॉकडाउन ( Lockdown ) के दौरान अपने सेवा कामों का लेखा-जोखा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( pm modi ) के सामने रखा। उनकेे कल्याणकारी कामों के बारे में पेश की गई रिपोर्ट ( Report present ) के बारे में जानने के बाद पीएम मोदी ने कहा, हमारे लिए हमारा संगठन सिर्फ चुनाव जीतने की मशीन नहीं है, हमारे लिए हमारे संगठन का मतलब है 'सेवा'।

सेवा ही संगठन नामक कार्यक्रम में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह, नितिन गडकरी, प्रकाश जावड़ेकर समेत दिग्गज नेता डिजिटल कार्यक्रम में जुड़े। सेवा ही संगठन कार्यक्रम में सात राज्यों की बीजेपी इकाई ने अपना प्रजेंटेशन दिया। शुरुआत राजस्थान बीजेपी इकाइन ने की।

पीएम मोदी ने कहा उ. प्र. और बिहार जैसे राज्यों को चुनौती बहुत हैं। आप लोगों (बीजेपी कार्यकर्ताओं) ने बीड़ा उठाया है कि हमारे जो श्रमिक भाई-बहन वापस आए हैं उनका कल्याण करने में कोई कमी नहीं रखेंगे। लॉकडाउन के दौरान बिहार में बीजेपी कार्यकर्ताओं की ओर से किए गए राहत कार्यों को देखने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्होंने स्थानीय भाषा में धन्यवाद भी दिया।

कार्यक्रम की शुरुआत में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पीएम मोदी के सामने देशभर में लॉकडाउन के दौरान किए कामों का लेखा-जोखा रखा।

- सेवा ही संगठन कार्यक्रम में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा पीएम का व्यक्तित्व सभी को प्रेरणा देता है। लॉकडाउन के बीच जो नेतृत्व पीएम मोदी ने प्रदान किया वो दुनिया को संदेश देने वाला है।

- नड्डा ने कहा पीएम मोदी के कुशल नेतृत्व में देश आगे बढ़ रहा है। 7 प्रदेश प्रजेंटेशन देंगे।

- समय पर लॉकडाउन लेना, लॉकडाउन में महत्वपूर्ण निर्णय लेना ये पीएम मोदी ने बखूबी बताया।

- जब पीएम ने 20 लाख करोड़ का पैकेज दिया तो यूएन और वर्ल्ड बैंक ने इसकी तारीफ की और अन्य देशों को अनुसरण करने की बात कही। पीएम मोदी के नेतृत्व में देश सुरक्षित है। संक्रमण से लड़ने और उसके तरीके को सही दिशा देने के साथ पीएम मोदी ने बीजेपी को भी प्रेरित किया है।

- लॉकडाउन के समय 4 हजार वीडियो कॉन्फ्रेंस, ढाई कार्यकर्ताओं तक पहुंचने का काम इसके जरिये हुआ।
ऑडियो ब्रिज के माध्यम से 700 ऑडियो ब्रिज किए। 70 लाख कार्यकर्ता इससे जुड़े और उन्हें मैसेज दिया। कार्यकर्ताओं ने इस मैसेज के आधार पर बूथ स्तर कोरोना से जंग में काम संभाला।

- जिन बुजुर्गों की दवाइयां खत्म हो गईं उनके लिए तीन लाख 90 हजार कार्यकर्ताओं ने काम किया और उनको दवाइयां पहुंचाई।

- महाराष्ट्र के कार्यकर्ताओं ने स्क्रीनिंग ने हाथ बंटाया। पुणे में सैनिटेशन और हॉस्पिटल मैनेजमेंट में हाथ बंटाया। जहां सफाई कर्मचारी कम पड़ रहे थे वहां बीजेपीके कार्यकर्ताओं ने चलाए। बिहार के कार्यकर्ताओं ने क्वारंटीन सेंटर चलाए।

- 22 करोड़ हमारे कार्यकर्ताओं ने फूड पैकेज देश भर में पहुंचाए। मोदी राशन किट 5 करोड़ बांटी गई। इसके तहत 15, 20 और 30 दिन का राशन हमने बांटा।

- 5 करोड़ से ज्यादा फेस मास्क बांटे, सभी महिला मंडल लगीं। सभी एनजीओ लगे।

- पीएम केयर फंड में 58 लाख कार्यकर्ताओं को जोड़ने का प्रयास, आरोग्य सेतु से 7 करोड़ लोगों को जोड़ने का काम किया। 8 लाख कार्यकर्ता दिन रात काम में लगे रहे।

- Migrant Labours के लिए कार्यकर्ताओं ने कोशिश की कि वे अपना स्थान छोड़कर ना जाएं। उनके भोजन से लेकर उनके रहने की व्यवस्था की। जो घरों के लिए निकले उनकी भी व्यवस्था की।

- Feed the needy के जरिये बहुत ही अच्छा काम हुआ। ये काम था हेल्पलाइन सेंटर के जरिये कार्यकर्ताओं ने हर प्रदेश में जरूरतमंदों को चीजें पहुंचाईं। नॉर्थ ईस्ट के बच्चे किराया नहीं दे पा रहे थे। हमारे कार्यकर्ताओं के नॉर्थ ईस्ट से फोन आया इसके बाद उनके रहने के काम और भोजन पहुंचाने का काम किया। बच्चों ने इस काम को काफी सराहा।

- ट्राइबल इलाकों में भी भोजना नहीं पहुंच रहा था। वहां हेल्पलाइन के जरिये कार्यकर्ताओं ने काम से लेकर भोजन तक सबकुछ मुहैया करवाया।

- कोरोना का संक्रमण दो तकलीफों के साथ आया। पहला लड़ाई कैसे लड़ें, दूसरा लॉकडाउन की वजह से जो समस्या आएगी उससे कैसे निपटा जाए। लेकिन पीएम मोदी ने इन दोनों ही समस्याओं को अपनी क्षमता और सही निर्णयों से मजबूती से निपटा। पार्टी को भी सीधा संदेश आपने दिया। पीएम ने कहा सबकी चिंता करनी है।

इन राज्यों ने दिया प्रजेंटेशन

शुरुआत राजस्थान के सतीश पुनिया ने की। इसके बाद महाराष्ट्र, बिहार, दिल्ली, कर्नाटक जैसे राज्यों ने भी लॉकडाउन के दौरान अपनी ओर से किए कामों का ब्यौरा पीएम मोदी के सामने रखा। पीएम मोदी स्थानीय भाषा के जरिये इन कामों को करने के लिए कार्यकर्ताओं को धन्यवाद भी दिया।

खुद गया पीएम मोदी के लद्दाख दौरे के राज, इस एक शख्स ने कुछ घंटों में तैयार किया था सीक्रेट प्लान

अरुण सिंह ने बताया कि पहली वर्षगांठ मनाने के लिए पार्टी ने 61 से ज्यादा वर्चुअल रैलियां कीं। 30 मई को मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की पहली वर्षगांठ थी। वर्चुअल रैलियों में 11.49 करोड़ लोगों ने भाग लिया।

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले वर्ष में हुए ऐतिहासक काम

अरुण सिंह ने यह भी कहा कि मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष पूरा हो गया हो गया है। दूसरे कार्यकाल के पहले साल में कई ऐतिहासिक काम हुए हैं। इनमें राममंदिर निर्माण, ट्रिपल तलाक से मुक्ति, नागरिकता संशोधन कानून शामिल हैं।

उन्होंने यह भी बताया कि इस दौरान 7549 वीडियो कॉन्फ्रेंस आयोजित किए गए, जिसमें 18 करोड़ से अधिक लोग शामिल हुए। उन्होंने बताया कि घर-घर संपर्क योजना के तहत 5 करोड़ से अधिक घरों से संपर्क किया गया।

एक नजर इन पर भी
690 प्रेस कांफ्रेंस देश भर में किए गए।
80 लाख सैनिटाइजर युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने बांटे
02 करोड़ से अधिक फेस कवर बांटे और लोकल के लिए वोकल होने की भी शपथ ली।
22 करोड़ से अधिक लोगों को पार्टी कार्यकर्ताओं ने भोजन
4.5 करोड़ फेस मास्क का निर्माण किया गया
5.41 लाख कार्यकर्ता बुजुर्गो के सेवा में लगे

चीन से तनाव के बीच पूर्व चुनाव आयुक्त ने बताया 59 ऐप बैन करने के बाद चीन को चिढ़ाने का नायाब तरीका, जान कर आप भी रह जाएंगे दंग

उन्होंने कहा, हम सब को गर्व है कि देश की कमान विश्व के लोकप्रिय नेता नरेंद्र मोदी जी के हाथों में है। हम शांति चाहते हैं और लोगों का उनपर भरोसा है। आपको बता दें कि यह कार्यक्रम वर्चुअल होगा और पार्टी के डिजिटल प्लेटफार्म पर लाइव प्रसारित किया जाएगा।

coronavirus pm modi
Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned