Tipu Sultan Jayanti: भाजपा विधायक जयंती में हुए शामिल, पार्टी ने सड़क पर किया प्रदर्शन

टीपू जयंती के आयोजन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे भाजपा और अन्य संगठनों के सैकड़ों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया।

बेंगलूरु: कर्नाटक में शुक्रवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मैसूर रियासत के 18वीं सदीं के शासक रहे टीपू सुल्तान की जयंती मनाई गई। राज्य सरकार ने सुरक्षा कारणों से गैर सरकारी संगठनों को टीपू जयंती के आयोजन की अनुमति नहीं दी थी। सिर्फ सरकारी स्तर पर ही समारोह का आयोजन हुआ। कोडुंगू, धारवाड़, चित्रदुर्गा, उडुपी और कलबुर्गी सहित कुछ अन्य जिलों में पुलिस ने टीपू जयंती के आयोजन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे भाजपा और अन्य संगठनों के सैकड़ों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया। भाजपा, टीपू सुल्तान जयंती विरोधी संघर्ष समिति और अन्य संगठनों की ओर से आहूत कोडुगू बंद का मिला-जुला असर दिखा।

बस पर किया पथराव

कोडुगू में बंद करने का ऐलान करने वाले समर्थकों ने सुबह करीब 8 बजे राज्य परिवहन निगम की एक बस पर पथराव किया। पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे भाजपा विधायक अप्पचु रंजन, विधान पार्षद सुनील सुब्रमणि सहित करीब दो कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।

समारोह में शामिल हुए भाजपा विधायक

भाजपा के टीपू जयंती के विरोध के बावजूद बल्लारी जिले के होसपेट से विधानसभा के सदस्य आनंद सिंह कार्यक्रम में शामिल हुए। पार्टी के रूख के खिलाफ आनंद सिंह ने कार्यक्रम का उद्घाटन किया। पत्रकारों से बातचीत में आनंद सिंह ने कहा कि टीपू जयंती के आयोजन को लेकर काफी विवाद है, मेरी पार्टी भाजपा भी इसका विरोध करती है लेकिन मेरे लिए क्षेत्र के लोगों की भावनाएं ज्यादा महत्व रखती है।

इस बीच भाजपा विधायक आनंद सिंह सहित कुछ नेताओं को पार्टी के अधिकृत रूख के खिलाफ जाकर टीपू जयंती समारोह शामिल होने को भाजपा ने गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई की चेतावनी दी है। विधानसौधा स्थित कक्ष में संवाददाता सम्मेलन के दौरान विधानसभा में विपक्ष के नेता जगदीश शेट्टर ने कहा कि भाजपा ने साफ तौर पर टीपू जयंती के आयोजन का विरोध किया है। इसके बावजूद पार्टी के कुछ कार्यकर्ता ऐसे समारोहों में शामिल हुए हैं। हम इसे काफी गंभीरता से लेंगे और उन कार्यकर्ताओं के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

Rajkumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned