दो दिवसीय दौरे पर लद्दाख पहुंचे CDS Bipin Rawat, सुरक्षा बलों की जमीनी जरूरतों का आकलन करेंगे

Highlights

  • उत्तरी कमान के आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी ने उनका स्वागत किया।
  • विशेष सीमा बल के सैनिकों के साथ खास बातचीत भी की।

नई दिल्ली। चीन के साथ सीमा विवाद को लेकर चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल विपिन रावत सोमवार को लद्दाख के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे। यहां पर वे वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेंगे।

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत लद्दाख पहुंच चुके हैं। उनका स्वागत उत्तरी कमान के आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी ने किया। उन्होंने परिचालन तैयारियों की समीक्षा की और उपराज्यपाल राधा कृष्ण माथुर से मुलाकात की।

जनरल रावत ठंड के मौसम में सीमा पर आगे के स्थानों का जायजा लेंगे। यहां पर तैनात सुरक्षा बलों की जमीनी जरूरतों का आकलन और समीक्षा करने की कोशिश करेंगे। वे पूर्वी लद्दाख में दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे हैं।

अरुणाचल के बाद लद्दाख का दौरा

सीडीएस जनरल बिपिन रावत (CDS General Bipin Rawat) को जमीनी हालात की जानकारी दी जाएगी। अरुणाचल प्रदेश में आगे के क्षेत्रों में जनरल रावत की यात्रा के तुरंत बाद उन्होंने अब लद्दाख का दौरा किया है। जनरल रावत ने अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के हवाई ठिकानों की समीक्षा कर रहे हैं। यहां तैनात भारतीय सेना, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस और विशेष सीमा बल के सैनिकों के साथ खास बातचीत भी की। उन्होंने अरुणाचल प्रदेश के दिबांग वैली का भी दौरान किया। जनरल रावत ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ के रूप में एक साल कार्यकाल पूरा कर लिया है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned