चेन्नई में फिर जोरदार बारिश शुरू, राहत अभियान हुआ प्रभावित

सेना, नौसेना और तटरक्षक बल के जवान अब तक दस हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा चुके हैं।

चेन्नई। चेन्नई तथा आसपास के इलाकों में बारिश थमने के कारण लोगों को थोड़ी राहत मिली थी, लेकिन दोपहर बाद फिर से बारिश होने के कारण राहत अभियान प्रभावित हो गया। बारिश तथा बाढ़ से अब तक मरने वालों की संख्या 325 हो गई है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सेना, नौसेना और तटरक्षक बल के जवान अब तक दस हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा चुके हैं। चेन्नई और तमिलनाडु के अन्य इलाकों में भारी बारिश के कारण आई बाढ़ से शुक्रवार को दूसरे दिन भी जनजीवन ठप रहा। गौरतलब है कि तमिलनाडु में प्राकृतिक आपदा से मरने वालों की संख्या पिछले कुछ वर्षों से लगातार बढ़ रही है। वर्ष 2013-14 में 15 लोगों की मौत हुई तथा 2014-15 यह संख्या 75 हो गयी थी। सेना प्रमुख जनरल दलबीर ङ्क्षसह ने शुक्रवार को चेन्नई का दौरा कर राहत बचाव कार्यों का जायजा लिया। राहत बचाव कार्यों में ढिलाई को लेकर विपक्षी दलों की ओर से की जा रही आलोचना के बीच राज्यपाल के रोसैया ने कहा कि राज्य सराकार बचाव एवं राहतकार्य के लिये युद्धस्तर पर प्रयास कर रही है। दक्षिण रेलवे ने चेन्नई से दक्षिणी जिलों के लिए विशेष रेल गाडिय़ां चलायी है ताकि बड़ी संख्या में फंसे लोगों के निकाला जा सके।

वहीं एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने कल से चेन्नई हवाई अड्डे को आंशिक रूप से खोलने की घोषणा की है। मद्रास उच्च न्यायालय की मदुरै खंडपीठ ने आज बाढ़ में फंसे लोगों को निकालने तथा उन्हें उनके मूल निवास तक पहुंचाने के लिए मुफ्त में बस की सुविधा उपलब्ध कराये जाने के लिये राज्य सरकार को निर्देश दिये।
विकास गुप्ता Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned