चिदंबरम का मोदी सरकार पर निशाना, महबूबा-उमर पर PSA लगाना लोकतंत्र में सबसे गंदा कदम

  • महबूबा मुफ्ती ( Mehbooba Mufti ) और उमर अब्दुल्ला ( Omar Abdullah ) पर लगाया गया PSA
  • पी चिदंबरम ( P Chidambaram ) ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर ( Jammu Kashmir ) से आर्टिकल 370 ( Article 370 ) हटने के बाद से पीडीपी ( PDP ) मुखिया महबूबा मुफ्ती ( Mehbooba Mufti ) और नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला ( Omar Abdullah ) पर PSA लगा दिया गया है। ये दोनों नेता करीब छह महीने से नजरबंद हैं। हालांकि, दोनों नेताओं को सशर्त रिहाई करने की बात की गई थी। लेकिन, शर्त के साथ रिहाई से उन्होंने इनकार कर दिया। वहीं, अब कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम ( P Chidambaram ) ने केन्द्र सरकार के इस कदम की आलोचना की है।

पढ़ें- दिल्लीः शाहीन बाग में शांतिपूर्ण मतदान के लिए चुनाव आयोग में बने वेबकास्टिंग रूम, हर गतिविधि पर होगी EC की नजर

पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और अन्य के खिलाफ सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम को गलत तरीके से इस्तेमाल किये जाने से काफी दुखी हूं। उन्होंने कहा कि ये लोकतंत्र में सबसे घटिया और गंदा कदम है। कांग्रेस नेता ने कहा कि आरोपों के बिना हिरासत में रखना लोकतंत्र में सबसे बुरा द्वेष है। जब अन्यायपूर्ण कानून पारित किए जाते हैं या अन्यायपूर्ण कानून लागू किए जाते हैं, तो लोगों के पास शांति से विरोध करने के अलावा और क्या विकल्प होता है। पी चिदंबरम ने कहा कि पीएम का कहना है कि विरोध प्रदर्शन से अराजकता होगी और संसद और विधानसभाओं द्वारा पारित कानूनों का पालन करना होगा। वह इतिहास और महात्मा गांधी, मार्टिन लूथर किंग और नेल्सन मंडेला के प्रेरक उदाहरणों को भूल गए हैं। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण प्रतिरोध और सविनय अवज्ञा के माध्यम से अन्यायपूर्ण कानूनों का विरोध किया जाना चाहिए।

पढ़ें- दिल्ली: मनीष सिसोदिया के OSD रिश्वत प्रकरण को लेकर राजनीति गरम, BJP ने AAP को घेरा

यहां आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्रियों उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती की छह महीने की 'ऐहतियातन हिरासत' पूरी होने से महज कुछ घंटे पहले गुरुवार को उनके खिलाफ जन सुरक्षा कानून ( पीएसए ) के तहत मामला दर्ज किया गया। इससे पहले दिन में नेशनल कॉन्फ्रेंस के महासचिव व पूर्व मंत्री अली मोहम्मद सागर और पीडीपी के वरिष्ठ नेता सरताज मदनी पर भी पीएसए लगाया गया।

Narendra Modi
Show More
Kaushlendra Pathak Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned