कोविड-19 : दिल्ली में खुले रहेंगे 400 मोहल्ला क्लीनिक, सीएम बोले- सामान्य बीमार लोगों का इलाज जारी रहेगा

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, "दिल्ली सरकार ने अपनी सभी 400 से अधिक मोहल्ला क्लीनिक खोले रखने का फैसला किया है, जिससे कि सामान्य बीमार लोगों को घर के पास इलाज मिलता रहे।

नई दिल्ली। देश और दिल्ली में फैले कोरोना वायरस संक्रमण के बीच दिल्ली सरकार ने अपने सभी मोहल्ला क्लीनिक को खोले रखने का फैसला किया है। दिल्ली सरकार द्वारा लिए गए निर्णय के मुताबिक, दिल्ली के सभी मोहल्ला क्लीनिकों में सामान्य दिनों की तरह लोगों की स्वास्थ्य जांच एवं उपचार किया जाता रहेगा। मोहल्ला क्लीनिकों को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, "दिल्ली सरकार ने अपनी सभी 400 से अधिक मोहल्ला क्लीनिक खोले रखने का फैसला किया है, जिससे कि सामान्य बीमार लोगों को घर के पास इलाज मिलता रहे।"

मुख्यमंत्री ने कहा, "दिल्ली सरकार समय के साथ लगातार जनता के हित में हेल्थ सेवाओं को प्राथमिकता देती रही है। इस कोरोना संकट में भी लोगों को पूरा ख्याल रख रही है। लॉकडाउन की परिस्थिति और कोरोना संकट में दिल्ली, देश के सामने एक आदर्श मॉडल बन रही है।"

लॉकडाउन से कई निजी क्लीनिक बंद

गौरतलब है कि लॉकडाउन घोषित किए जाने के बाद से दिल्ली में सैकड़ों निजी क्लीनिक बंद हैं। अधिकांश डॉक्टर के क्लीनिक बंद होने के कारण कई स्थानों पर लोगों को आवश्यक स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं मिल पा रही हैं। इसी स्थिति को देखते हुए दिल्ली सरकार ने अपने सभी मोहल्ला क्लीनिकों को खोले रखने का निर्णय लिया है।

ये भी पढ़ें: Coronavirus: स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का बड़ा बयान- देशभर में Covid-19 के लिए विशेष अस्पताल बनाने की तैयारी

दिल्ली में किसी जरूरी वस्तुओं की कमी नहीं होगी- मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कोरोना वायरस की रोकथाम के विषय पर कहा, "कोरोना वायरस के खिलाफ जंग जीती जा सकती है, जरूरत है तो केवल सावधानी की। ऐसे में दिल्ली सरकार आप की हर संभव मदद को तैयार है।" मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में किसी भी आवश्यक वस्तु की कमी नहीं होने दी जाएगी। दूध दवा राशन व अन्य सभी आवश्यक वस्तुएं सभी आवश्यक वस्तुएं निरंतर मुहैया कराई जाएंगी।

दिल्ली में ई-पास शुरू की गई

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों को जरूरी सेवाएं देने वालों के लिए दिल्ली में ई-पास जारी करने की प्रक्रिया शुरू की गई है। केवल एक कॉल से व्हाट्सएप के जरिए ई-पास सीधे हासिल किए जा सकते हैं। दिल्ली सरकार कोरोना संकट दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ मिलकर लगातार बड़े फैसले ले रही है। सरकार का कहना है कि इस दौरान नागरिकों की हर जरूरत का ध्यान रखा जा रहा है।

ये भी पढ़ें: coronavirus मानव संसाधन मंत्री निशंक ने पीएम राहत कोष में दिया एक माह का वेतन

अनिवार्य सेवाएं देने वाले व्यक्तियों के विषय में केजरीवाल ने दिल्ली पुलिस से अपील करते हुए कहा, "दिल्ली पुलिस से निवेदन है कि अगर किसी दूध और सब्जी वाले के पास ई-पास नहीं है तो उन्हें जाने दें। डिलिवरी कंपनियां भी अपने कर्मचारियों को आईडी कार्ड बनाकर दें, जो पास की तरह ही मान्य होंगे।"

coronavirus Coronavirus causes
Show More
Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned