केंद्र सरकार का दावा, पंजाब की कांग्रेसी सरकार ने जानबूझकर हिंसा भड़काने की कोशिश की

Highlights

  • केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने दिल्ली पुलिस के धैर्य और संयम की प्रशंसा की है।
  • कांग्रेस अहिंसक मार्च को हिंसक बताने की कोशिश कर रही है।

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने ट्रैक्टर परेड में हिंसा को लेकर कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेसवार्ता कर हिंसा के लिए पार्टी पर आरोप लगाए हैं। साथ ही उन्होंने दिल्ली पुलिस के धैर्य और संयम की प्रशंसा की है।

केरलः कोविड-19 से लड़ने के लिए सरकार ने सख्त प्रतिबंध को लागू करने का लिया फैसला

हिंसा के पीछे कांग्रेस का हाथ होने के प्रमाण

प्रकाश जावड़ेकर के अनुसार पंजाब में कांग्रेस की सरकार है। उसने जानबूझकर किसानों को उकसाने काम किया है। कई ट्वीट में इसके प्रमाण भी हैं। इनमें यूथ कांग्रेस के भी ट्वीट भी हैं। ट्वीट में कांग्रेस ने लिखा कि अहिंसक मार्च को हिंसक दिखाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लाल किले पर जो हुआ। वो अहिंसक था। पुलिस पर तलवार और डंडे से प्रहार हुए हैं। यह क्या अहिंसक घटना थी। पुलिस के 300 से ज्यादा लोग घायल हुए। इसके बावजूद कांग्रेस कह रही है कि अहिंसक मार्च को हिंसक बताने की कोशिश कर रही है।

निंदा होने के बाद राहुल ने हिंसा की आलोचना की

जावेड़कर ने एक और ट्वीट का जिक्र किया। युवा कांग्रेस मजबूती से ट्रैक्टर रैली के साथ खड़ी है और ये ट्रैक्टर कैसे बस और पुलिस जीप को सामने से टक्कर मारेंगे। कांग्रेस के एक ट्वीट में तो एक किसान की मौत के लिए पुलिस बर्बरता को जिम्मेदार ठहराया गया। जब पूरे देश में इसकी निंदा के स्वर उठने लगे तब राहुल गांधी ने हिंसा की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हताश और निराश है। कम्युनिस्टों के भी यही हालात बने हुए हैं। ये पार्टियां देश में दंगे भड़काना चाहती हैं।

coronavirus
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned