अचानक Delhi में बढ़ने लगे कोरोना के मामले, सीएम अरविंद केजरीवाल ने उठाया ये कदम

  • राष्ट्रीय राजधानी Delhi में एक बार फिर बढ़े कोरोना के मामले
  • कोरोना के बढ़ते मामले से सरकार की बढ़ी चिंता, CM Arvind Kejiwal ने बुलाई आपात बैठक

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (coronavirus in India) के कारण पूरे देश में हाहाकार मचा है। आलम ये है कि यह महामारी लगातार फैलता ही जा रहा है। पाबंदियों और लॉकडाउन (India Lockdown) के बावजूद देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 32 लाख के करीब पहुंच गया है। वहीं, 59 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इसी बीच राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) में एक बार फिर कोरोना संक्रमितों का मामला बढ़ने लगा है। जिसके कारण सरकार की चिंता बढ़ गई है और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आपाता बैठक बुलाई है।

Delhi में फिर से बढ़ने लगे कोरोना के मामले

दरअसल, पिछले कुछ समय से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (coronavirus in Delhi) में कोरोना के केस कम आने लगे थे। लेकिन, विगत कुछ दिनों से अचानक नये केस बढ़ने लगे हैं। मंगलवार को दिल्ली में कोरोना वायरस के 1544 नए मामले सामने आए हैं। कोरोना के मामले को बढ़ता देख सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने आपात बैठक बुलाई है। इस बैठक में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन, स्वास्थ्य सचिव और मुख्य सचिव समेत कई आला अधिकारी हिस्सा लेंगे। इतना ही नहीं सरकार की चिंता बढ़ गई है कि आखिर दोबारा कोरोना के मामले क्यों बढ़ रहे हैं। यहां आपको बता दें कि दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1,59,741 पहुंच चुका है। इनमें 11,998 एक्टिव केस हैं। जबकि, 1,47,743 लोग इस महामारी से ठीक हो चुके हैं। वहीं, अब तक 4330 लोगों की मौत हो चुकी है।

पिछले 24 घंटे में 1500 से ज्यादा केस

वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1544 नए मामले आए हैं। जबकि, 17 लोगों की इस महामारी से मौत हुई है। लेकिन, कोरोना (corona cases in Delhi) के बढ़ते मामले ने सरकार और प्रशासन की चिंता एक बार फिर बढ़ा दी है। इधर, दिल्ली मॉडल को अमरीका ने भी अपनाया है। इसके लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों को बधाई भी दी है। उन्होंने कहा कि लोग कहते थे कि आज जो अमरीका कर रहा है, कल वह भारत करेगा। लेकिन, आज दिल्ली ने क्या, उसे अमरीका ने अपनाया है। केजरीवाल ने कहा कि यह देश के लिए सम्मान की बात है। इतना ही नहीं अमरीका ने प्लाज्मा थेरेपी को भी अपनाया है। अब देखना ये है कि केजरीवाल ने जो आपात बैठक बुलाई है, उसमें क्या निर्णय लिया जाता है।

Show More
Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned