Coronavirus: हॉटस्पॉट इलाकों में आखिर कब तक मिलेगी ढील? सरकार ने दी जानकारी

  • देश में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना वायरस ( coronavirus )
  • 170 जिले कोरोना हॉटस्पॉट ( HotSpot ) घोषित
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ( Health Ministry ) ने बताया कि इन इलाकों में कब मिलेगी ढील

नई दिल्ली। पूरा देश इन दिनों कोरोना वायरस ( coronavirus ) की गिरफ्त में है। इस महामारी को रोकने के लिए अगामी तीन मई तक लॉकडाउन ( Lockdown 2.0 ) है। इसके बावजूद कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। देश में 11 हजार से ज्यादा लोग इस खतरनाक वायरस से संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 480 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, सरकार ने 170 जिलों को कोरोना हॉटस्पॉट ( HotSpot ) घोषित किए हैं। अब सबके मन में एक ही सवाल है कि हॉटस्पॉट इलाकों में आखिर कब तक ढील मिलेगी?

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, कोरोना संक्रमण की पुष्टि वाले व्यक्ति को अलग-थलग रखे जाने और उसके संपर्क में आये लोगों की 28 दिन तक निगरानी करने के बाद कम से कम चार सप्ताह तक किसी आइसोलेट जोन से अगर कोरोना वायरस का कोई पॉजिटिल मामला सामने नहीं आता है, तो वहां ढील मिल सकती है। मंत्रालय का कहना है कि इन मापदंड़ों का पूरा होने के बाद ही सील किए इलाके के लिए चलाए जाने वाले अभियान को सीमित किया जाएगा।

मंत्रालय का कहना है कि जहां संक्रमण के अधिक मामले आये है, उनके लिए निगरानी का बंद होना, एक अन्य क्षेत्र से भिन्न हो सकता है यदि इन क्षेत्रों के बीच कोई भौगोलिक निरंतरता नहीं हो। लेकिन, एसएआरआई और आईएलआई के लिए निगरानी जारी रहेगी। गौरतलब है कि सरकार की ओर से कुल 170 जिलों को कोरोना हॉटस्पॉट घोषित किया गया है। इसमें कहा गया है कि राज्यों को यह सुनिश्चित करना होगा कि इन क्षेत्रों में इस महामारी से निपटने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाये जाए और संक्रमण की इस चेन को तोड़ा जाए।

देश में महाराष्ट्र, दिल्ली, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश और राजस्थान से बड़ी संख्या में मामले सामने आए है। इसके अलावा 207 जिलों की पहचान गैर-हॉटस्पॉट जिलों के रूप में की है। स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि कंटेनमेंट क्षेत्र में सक्रिय मामलों का पता लगाया जाएगा। सभी संदिग्ध मामलों और जोखिम वाले संपर्कों की जांच की जाएगी। सभी संदिग्ध या पुष्ट मामलों को अलग किया जाएगा और सामाजिक दूरी को बनाये रखने संबंधी कदमों को लागू किया जाएगा। यहां आपको बता दें कि देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। कुछ राज्यों और जिलों में स्थिति बेहद खराब है, जबकि कुछ राज्यों से अच्छी खबरें भी सामने आ रही है।

coronavirus
Show More
Kaushlendra Pathak Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned