दिल्ली के LNJP हॉस्पिटल से भागा कोरोना मरीज, हरियाणा से बरामद, संक्रमण की चिंता बढ़ी

  • देश में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना वायरस ( coronavirus )
  • LNJP हॉस्पिटल से भागा कोरोना मरीज
  • हरियाणा ( Haryana ) के सोनीपत ( Sonipat ) जिले से पकड़ गया

नई दिल्ली। पूरी दुनिया के साथ-साथ भारत ( India ) में भी कोरोना वायरस ( coronavirus ) काफी तेजी से फैलता जा रहा है। देश में अब तक 11 हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 480 लोगों की मौत हो गई है। इस महामारी को रोकने के लिए देश में तीन मई तक का लॉकडाउन ( Lockdown ) जारी है। लेकिन, कोरोना मरीज और संदिग्धों के भागने का मामला लगातार जारी है। ताजा मामला है दिल्ली स्थित लोकनायक जय प्रकाश नारायण ( LNJP ) हॉस्पिटल का, जहां से एक कोरोना मरीज भाग निकला। हालांकि, बाद में उसे हरियाणा से गिरफ्तार कर लिया गया है। लेकिन, स्वास्थ्य विभाग को संक्रमण की चिंता बढ़ने लगी है।

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली के LNJP अस्पताल से 17 अप्रैल को कोरोना का एक मरीज भाग निकला था। लेकिन, बाद में उसे हरियाणा के सोनीपत जिले स्थित राई से शनिवार को पकड़ लिया गया। अस्पताल से फरार कोरोना पॉजिटिव के पकड़े जाने के बाद भी दिल्ली पुलिस की मुश्किलें कम नहीं हुई हैं। अब दिल्ली पुलिस के सामने इसके संपर्क में आए लोगों को ट्रेस करने की चुनौती आ गई है। एक दिन पहले अस्पताल से फरार होने से लेकर पकड़े जाने तक, वह किन-किन लोगों के संपर्क में आया, पुलिस इस संबंध में जानकारी जुटा रही है। गौरतलब है कि यह पहला अवसर नहीं है जब कोई मरीज दिल्ली के LNJP अस्पताल से फरार हुआ हो।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, इससे पहले भी इसी अस्पताल से कोरोना का संदिग्ध मरीज फरार हो गया था। हालांकि, फरार मरीज को चंद घंटों में ही पकड़ लिया गया था। पकड़े जाने के बाद उसने खाना खाने के लिए बाहर जाने की बात कही थी। दिल्ली के अलावा कई राज्यों और जिलों से कोरोना मरीजों के भागने की खबरें सामने आ चुकी है। कुछ दिन पहले ही मध्य प्रदेश के इंदौर से दो कोरोना मरीजों के भागने की खबरें आई थीं। लेकिन, सबसे परेशनी स्वास्थ्य विभाग के सामने यह आती है कि मरीज के संपर्क में आए लोगों को ढूंढना।

coronavirus
Show More
Kaushlendra Pathak Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned