Lalu Prasad Yadav पर कोरोना का खतर बरकरार, फिर होगी जांच, जानें क्या है पूरा मामला?

  • Lalu Prasad Yadav का फिर होगा corona टेस्ट
  • RJD सुप्रीम का एक सेवादार निकाल कोरोना पॉजिटिव

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( coronavirus in India ) का लगातार प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। लॉकडाउन ( India Lokckdown ) के बावजूद देश में कोरोना संक्रमितों ( COVID-19 ) का आंकड़ा 13 लाख के पार पहुंच चुका है। इस महामारी ने हर किसी को अपनी चपेट में लेता जा रहा है। इसी कड़ी में बड़ी आरजेडी ( RJD ) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ( Lalu Prasad Yadav ) को लेकर आ रही है। बताया जा रहा है कि उनक कोरोना (corona) का खतरा बरकरार है। लिहाजा, जल्द ही दोबारा कोरोना की जांच (Corona Test ) होगी। दरअसल, लालू प्रसाद के एक सेवादार कोरोना पॉजिटिव ( corona Positive ) निकल गया है। लिहाजा, रिम्स ( RIMS ) प्रशासन को RJD सुप्रीमो को लेकर चिंता बढ़ गई है।

Lalu Prasad पर से अभी कोरोना का खतरा टला नहीं

जानकारी के मुताबिक, RIMS के पेइंग वार्ड में भर्ती लालू प्रसाद यादव ( Lalu Prasad Yadav corona Test ) का सेवादार कोरोना पॉजिटिव निकल गया है। ऐसे में चर्चा ये है कि अगले दो-तीन दिनों में लालू प्रसाद का दोबारा कोरोना टेस्ट किया जा सकता है। वहीं, इस खबर से हॉस्पिटल प्रबंधन पूरी तरह अलर्ट हो गया है। रिपोर्ट के मुताबक, लालू प्रसाद के सेवादार में कोरोना का लक्षण दिखा था। इसके बाद तीन सेवादारों का कोरोना टेस्ट कराया, जिसमें एक सेवादार कोरोना पॉजिटिव निकल गया। रिपोर्ट में यह भी कहा जा रहा है कि लालू प्रसाद का भी कोरोना टेस्ट हुआ था, लेकिन उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई। हालांकि, हॉस्पिटल प्रशास ने लालू प्रसाद के दोबारा जांच कराने की बात कही है। लालू प्रसाद की रिपोर्ट निगेटिव ( Lalu Yadav corona Test Negative ) आने के बाद समर्थकों ने राहत की सांस ली है। लेकिन, दोबार जांच कराने की बात से चिंता भी बढ़ गई है। हालांकि, हॉस्पिटल प्रबंधन को पहले से ही लाल प्रसाद के सेहत को लेकर चिंता है। क्योंकि, कुछ दिन पहले भी उनका एक बॉडीगार्ड कोरोना पॉजिटिव निकला था।

झारखंड में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार

गौरतलब है कि चारा घोटाले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद काफी समय से रिम्स ( RIMS ) में अपना इलाज करवा रहे हैं। वहीं, झारखंड ( coronavirus in Jharkhand ) भी कोरोना वायरस काफी तेजी से बढ़ रहा है। राज्य में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 8349 पहुंच गया है। इनमें 3704 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 4560 लोगों का अब भी इलाज चल रहा है। वहीं, इस महामारी से अब तक 85 लोगों की मौत हो चुकी है। अालम ये है कि COVID-19 को लेकर राज्य सरकार की चिंता भी बढ़ गई है। क्योंकि, पदाधिकारी, विधायक और मंत्री भी इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं।

Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned