Coronavirus: झाड़ू लगाने से भी फैल सकता है कोरोना वायरस! AIIMS के डॉक्टर का दावा

-Coronavirus: भारत समेत पूरी दुनिया में कोरोना वायरस ( Covid-19 Virus ) का कोहराम जारी है।
-देश में अब तक कुल मामले 55 लाख ( Covid-19 Cases ) के पार हो चुके हैं।
-कोरोना पर हो रही रिसर्च में नए-नए तथ्य भी सामने आ रहे हैं।
-इसी कड़ी में एम्स ( AIIMS ) के एक वरिष्ठ डॉक्टर ने दावा किया है कि झाड़ू ( Sweeping ) लगाने से भी कोरोना वायरस फैल सकता है।

By: Naveen

Published: 22 Sep 2020, 03:30 PM IST

नई दिल्ली।
Coronavirus: भारत समेत पूरी दुनिया में कोरोना वायरस ( COVID-19 virus ) का कोहराम जारी है। देश में अब तक कुल मामले 55 लाख ( Covid-19 Cases ) के पार हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में 74,903 नए मामले सामने आए हैं। वहीं, 1,053 मौतें हुई हैं, जिसके साथ कुल मौतों का आंकड़ा 88 हजार के पार पहुंच चुका है। कोरोना पर हो रही रिसर्च में नए-नए तथ्य भी सामने आ रहे हैं। इसी कड़ी में एम्स ( AIIMS ) के एक वरिष्ठ डॉक्टर ने दावा किया है कि झाड़ू ( Sweeping ) लगाने से भी कोरोना वायरस फैल सकता है। ऐसे में लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है।

India में Coronavirus मरीजों का आंकड़ा 55 लाख के करीब, देश में अब तक 87882 मौतें

कोरोना संक्रमण का खतरा
एम्स के सर्जरी विभाग के अध्यक्ष डॉक्टर अनुराग श्रीवास्व ने दावा किया है कि सार्वजनिक स्थानों पर झाड़ू लगाने से कोरोना संक्रमण के प्रसार का खतरा बढ़ जाता है। सार्वजनिक स्थानों पर कोरोना संक्रमण हो सकता है, ऐसे में झाड़ू लगाने से उसका प्रसार हो सकता है। संक्रमित व्यक्ति के छींकने यां खांसने पर जमीन पर या मिट्टी में या किसी भी अन्य चीज में कोरोना वायरस के कण गिर जाते हैं, जो 3 से पांच दिन तक रह सकते हैं।

हवा से शरीर में पहुंचने का खतरा
श्रीवास्व ने बताया कि जब सार्वजनिक स्थानों पर झाड़ू लगाई जाएगी तो धूल या मिट्टी में मौजूद कोरोना के कण सांस के जरिए लोगों के शरीर में प्रवेश कर सकते हैं। इससे उनको भी संक्रमण फैलने का खतरा रहता हैं। डॉक्टर श्रीवास्तव का कहना है कि इससे बचने के लिए सार्वजनिक स्थानों पर झाड़ू की जगह वैक्यूम क्लीनर का उपयोग करना चाहिए। वैक्यूम क्लीनर के उपयोग से वायरस के कण हवा में नहीं उड़ेंगे सीधे कचरे के डिब्बे में जाएंगे। ऐसे संक्रमण के प्रसार को कुछ हद तक कम किया जा सकता है।

Covid-19 Vaccine को लेकर रूस से आई Good News, अगले सप्ताह से लोगों को मिलेगी दवा

देश में रिकवरी रेट 80.86%
बता दें कि देश में कोरोना संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है। हालांकि, राहत की बात है कि कुल 55,62,483 संक्रमित मरीजों में से 44,97,867 मरीज ठीक हो चुके हैं। देश में रिकवरी रेट 80.86% चल रहा है। एक्टिव मरीज़ 17.54% यानी 9,75,681 हैं, जबकि डेथ रेट 1.59% और पॉजिटिविटी रेट 8.02% चल रहा है। पिछले 24 घंटों में 9,33,185 टेस्ट हुए हैं।

coronavirus COVID-19 virus
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned