दिल्ली: चाईनिज लोन APP के जाल में फंस कर लड़के ने किया सुसाइड, जानिए पूरा मामला

युवक ने एक ऐप से 10 हजार का लोन लिया था, जिसमें महज से 3000 रुपये का लोन बचा था। लेकिन इतनी रकम के लिए ऐप कर्मचारी उसकी फोटो, नाम और पिता के नाम से व्हाट्सप्प पर ग्रुप बना कर उसकी बदनामी की जा रही थी, इसकी वजह से उसने अपनी जान दे दी।

नई दिल्ली: गूगल प्ले स्टोर पर ऐसे सैकड़ों एप है जिसे डाउनलोड कर के चंद मिनटों में कर्ज लिया जा सकता है लेकिन मिनटों में लोन देने वाला ये ऐप अब लोगों की जिंदगी छीन रहे हैं। दरअसल, कर्ज देने वाले ऐसे ही एक चीनी एप के जाल में फसकर दिल्ली के शख्स ने सुसाइड़ कर लिया है।

मिली जानकारी के मुताबिक, मामला द्वारका के शाहबाद मोहम्मदपुर का है। जहां एक युवक ने एक ऐप के कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या कर लिया। इस युवक का नाम हरीश बताया जा रहा है और जो अभी 21 साल का था। हरीश ने एक ऐप से 10 हजार का लोन लिया था, जिसमें महज से 3000 रुपये का लोन बचा था। लेकिन इतनी रकम के लिए ऐप कर्मचारी उसकी फोटो, नाम और पिता के नाम से व्हाट्सप्प पर ग्रुप बना कर उसकी बदनामी की जा रही थी, इसकी वजह से उसने अपनी जान दे दी।

Paytm ने शुरू की इंस्टेंट पर्सनल लोन सर्विस, 2 लाख तक का लोन 2 मिनट में, जानिए कैसे

हरीश के परिवार के एक सदस्य ने बताया की अंतिम संस्कार के बाद उसके नम्बर पर रिकवरी के लिए आई कॉल थी, जिसके बाद उन्हें इस मामले के बारे में पता चला। परिवार वालों ने ऐप के खिलाफ पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई है और पुलिस कॉल डिटेल से जांच शुरू भी कर दी है।

बता दें ये ऐसा पहला केस नहीं है। इससे पहले भी इस तरह के कई मामले सामने आ चुके हैं। लोन देने वाले चीनी एप युवाओं को फंसा रहे हैं। ये एप डाउनलोड करते ही फोन के कॉन्टेक्ट डिटेल, पर्सनल डिटेल सेव कर लेते हैं और कर्ज समय पर ना चुकाने पर बदनाम करते हैं।

इंस्टेंट लोन देकर फंसा रहे Chinese Apps, समय पर पैसा वापस न करने पर करते हैं गंदी डिमांड

मीडिया रिपोर्ट के मुकाबिक कोरोना काल में इस्टेंट लोन वाले ऐप बढ़े हैं। जिनमें से 60%-70% इस्टेंट लोन ऐप चाइनीज हैं। पुलिस के मुताबिक कैश मामा, लोन जोन, धनाधन लोन, कैश अप, कैश बस, मेरा लोन, जैसे 50 से ज्यादा चाइनीज एप कर्ज के नाम लोगों से पैसे लूट रहे हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, 500 ऐसी एप्स हैं, जो लोगों को इंस्टेंट लोन देती हैं। इनमें से ज्यादातर एप्स रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के साथ रजिस्टर्ड भी नहीं हैं। इंस्टेंट लोन देने वाली ये चाइनीज एप्स गैर कानूनी रूप से काम कर रही हैं।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned