NEET और JEE परीक्षा को लेकर मनीष सिसोदिया का बयान, बोले- नए विकल्प तलाशे केंद्र सरकार

  • NEET और JEE Exam को लेकर Delhi के शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया का बड़ा बयान
  • बोले- केंद्र सरकार तलाशे दूसरे विकल्प
  • कोरोना संकट के बीच छात्रों की जान को जोखिम में डालना ठीक नहीं

नई दिल्ली। NEET और JEE की परीक्षाओं के स्थगित करने की मांग के बीच आम आदमी पार्टी ( Aad Aadmi Party )के नेता और दिल्ली के शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया ( manish sisodia ) का बड़ा बयान सामने आया है। मनीष सिसोदिया ने इन परीक्षाओं को स्थगित करने के साथ ही केंद्र सरकार से अन्य विकल्प के बारे में विचार की बात कही है।

दरअसल सिसोदिया पहले भी परीक्षा के स्थगन की मांग कर चुके हैं। उन्होंने कहा है कि परीक्षा को लेकर केंद्र की मोदी सरकार को अन्य विकल्प तलाशने चाहिए। आपको बता दें कि जेईई और नीट को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को बैठक बुलाई है। इस बैठक में गैर एनडीए के मुख्यमंत्रियों के साथ इन परीक्षाओं के स्थगन समेत अन्य मुद्दों पर बात होगी।

पीएम मोदी ने शेयर किया गुजरात में मोढ़ेरा के सूर्य मंदिर का वीडियो, जानें क्या बताई वजह

बड़ी खबरः संसद के पास पकड़ाया एक संदिग्ध शख्स, आतंकी हमले के अलर्ट के बीच उससे बरामद हुआ कोडवर्ड लिखा खत, मचा हड़कंप

देशभर में एक से छह सितंबर को आयोजित होने जा रही जेईई मेंस ( JEE Main ) और 13 सितंबर को आयोजित होने वाली NEET परीक्षा को स्थगित करने की मांग के बीच दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का बड़ा बयान सामने आया है।

मनीष सिसोदिया ने केंद्र की मोदी सरकार ने अन्य विकल्प तलाशने की बात कही है। सिसोदिया ने कहा है कि परीक्षा को लेकर सरकार को अन्य विकल्प तलाशने चाहिए। महामारी के इस दौर में छात्रों की जान को जोखिम में डालना ठीक नहीं है।

बुधवार को प्रेस से बातचीत में मनीष सिसोदिया ने कहा कि मुझे लगता है कि केंद्र सरकार को NEET और JEE परीक्षा स्थगित करनी चाहिए या उन्हें परीक्षा आयोजित करने का एक वैकल्पिक तरीका खोजना चाहिए। दुनिया भर में परीक्षा प्रणाली विकसित हो रही है, परीक्षा आयोजित करने के 1000 वैकल्पिक तरीके हैं।

आपको बता दें कि देशभर के लाखों छात्रों के साथ उनके अभिभावक भी कोरोना संकट के बीच इन परीक्षाओं को स्थगित करने की बात कर रहे हैं। इसके साथ ही विपक्ष भी लगातार इन परीक्षाओं के स्थगन की मांग कर रहा है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, ओडिशी सीएम नवीन पटनायक और झारखंड सीएम हेमंत सोरेन भी इन परीक्षाओं फिलहाल ना लिए जाने को लेकर मांग कर चुके हैं।

manish sisodia
Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned