Delhi : जीएसटी इंटेलिजेंस ने अवैध गुटखा कंपनी और 40 करोड़ के गबन का खुलासा किया

  • DG GSTI ने दिल्ली में अवैध पान मसाला व गुटखा कंपनी का भंडाफोड़ किया।
  • GST इंटेलिजेंस ने इस मामले में मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया।
  • इस समय अवैध कंपनी का मुख्य आरोपी Judicial Custody में है।

नई दिल्ली। खुफिया सूचना के आधार पर डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ गुड्स एंड सर्विस टैक्स इंटेलिजेंस ( DGGST-I ) ने देश की राजधानी दिल्ली में अवैध और गैर लाइसेंसी पान मसाला व गुटखा कंपनी का भंडाफोड़ किया। प्रारंभिक जांच में 40 करोड़ रुपए से ज्यादे के राजस्व गबन ( Revenue Loss ) का मामला सामने आया है।

इस मामले में जीएसटी इंटेलिजेंस ( GST ) की टीम ने कंपनी के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया था। अदालत ने मुख्य आरोपी 14 दिनों की न्यायिक हिरासत (Judicial Custody ) में भेज दिया है।

इस मामले में डीजी जीएसटी इंटेलिजेंस ने 25 जून को दिल्ली में कई स्थानों पर छापेमारी ( Raids ) की थी। छापे अवैध गुटखा कंपनी के दफ्तर, गोदाम और मुख्य लाभार्थी के आवास पर मारे गए।

12 घंटे तक चली बैठक में भारत का दो टूक जवाब, फिंगर 4 से 8 तक के इलाके से पीछे हटे चीन

जानकारी के मुताबिक छापे के दौरान करों का भुगतान किए बगैर पान मसाला और गुटखा बनाने व आपूर्ति का मामला सामने आया। जीएसटी इंटेलिजेंस ने बिना टैक्स ( Tax ) जमा किए पान मसाला और गुटखा आपूर्ति के कागजात और इलेक्ट्रिॉनिक्स उपकरण भी जब्त किए हैं।

पूर्व एजी मुकुल रोहतगी का बड़ा फैसला, कहा - देशहित में नहीं लड़ेंगे Tik Tok का केस

बता दें कि दिल्ली में बिना अनुमति के पान मसाला व गुटखों का उत्पादन, भंडारण, बिक्री और प्रतिबंधित ( Ban ) है। इसके बाजवूद लॉकडाउन ( Lockdown ) के दौरान फैक्ट्री में उत्पादन कार्य जारी रहा। इस मामले में मुख्य आरोपी को 27 जून को सीजीएसटी अधिनियम 2017 ( CGST Act 2017 ) के तहत गिरफ्तार किया। फिलहाल आरोपी को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में रखा गया है। इस मामले में आगे की जांच जारी है ।

GST
Show More
Dhirendra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned