हरियाणा बॉर्डर सील से लगा लंबा जाम, पास से भी एंट्री मुश्किल

  • Hariyana Border Sealed : कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए गुरुवार को हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने बॉर्डर सील करने के दिए थे आदेश
    बदरपुर बॉर्डर में फंसे कई लोगों के अनुसार कार्ड होने के बावजूद उन्हें जाने नहीं दिया जा रहा है

By: Soma Roy

Published: 29 May 2020, 12:34 PM IST

नई दिल्ली। कुछ दिनों पहले गाजियाबाद बॉर्डर सील (Border Sealed) किए जाने से जिस तरह भयंकर जाम देखने को मिला था। ऐसा ही नजारा आज दिल्ली-गुरुग्राम में देखने को मिला। हरियाणा बॉर्डर (Hariyana Border Sealed) के सील किए जाने से यहां गाड़ियों की लंबी कतारें (Traffic Jam) खड़ी हो गईं। जाम इतना भयंकर था कि कई लोगों के पास आईकार्ड व ई-पास होने के बावजूद एंट्री नहीं दी गई।

बताया जाता है कि बदरपुर बॉर्डर (Badarpur Border) के पास बड़ी संख्या में ऐसे लोग मिले जिनका कहना है कि उनके पास कार्ड है इसके बावजूद उन्हें आगे नहीं जाने दिया जा रहा है। कई लोग दफ्तर या जरूरी कामकाज से जा रहे थे, लेकिन भीषण जाम और सख्ती होने के कारण उनका जाना मुश्किल हो गया है। गर्मी के चलते लोगों को बुरा हाल है। हालांकि प्रशासन सिथति पर काबू पाने में लगी हुई है।

मालूम हो कि गुरुवार को हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने आदेश जारी कर कहा था कि दिल्ली से सटे हरियाणा बॉर्डर को सील रखा जाए। चूंकि 80 फीसदी केस ऐसे है जो दिल्ली के ऐसे इलाके हैं जो हरियाणा से सटे हुए हैं। इससे यहां भी कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है। अनिल विज ने दावा किया था कि हरियाणा में रोज गुरुग्राम और फरीदाबाद जैसे शहरों में केस बढ़ रहे हैं। इनका कारण दिल्ली से आने वाले लोग है। इसलिए बॉर्डर सील करना जरूरी हो गया है। हरियाणा सरकार ने इससे पहले भी बॉर्डर को सील किया था, हालांकि बाद में इसे खोल दिया गया था। लॉकडाउन 4.0 में केंद्र सरकार ने एक राज्य से दूसरे राज्य के सफर को अनुमति दी थी, मगर इसमें राज्यों का फैसला सर्वमान्य है।

स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के आंकड़ों के मुताबिक हरियाणा में अभी कोरोना के लगभग 1504 केस हैं। जिनमें से 19 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 800 से अधिक लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं दिल्ली में कुल मामलों की संख्या 16 हजार के पार हो गई है। जिनमें से तीन सौ से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned