नागरिकता अधिनियम के विरोध में दिल्ली में आगजनी, प्रदर्शनकारियों ने 4 बसों में लगाई आग, 2 घायल

  • नागरिकता संशोधन अधिनियम पर दिल्ली में प्रदर्शन
  • प्रदर्शनकारियों ने बसों में लगाई आग
  • जामिया के छात्र इस विवाद में शामिल नहीं हैं

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर दिल्ली में रविवार को व्यापक हिंसक प्रदर्शन किया गया। इस दौरान भीड़ ने चार बसों में आग लगा दी और पथराव में दो दमकल कर्मी घायल हो गए। जामिया के छात्र इस विवाद में शामिल नहीं हैं, विश्वविद्यालय संघ ने यह जानकारी दी।

यह भी पढ़ें-दिल्ली: पति ने मेट्रो के आगे कूदकर दी जान, शाम को पत्नी ने बेटी साथ की आत्महत्या

 

इस आगजनी और विवाद से आश्रम से फ्रेंडस कॉलोनी और कालिंदी कुंज तक दक्षिण दिल्ली क्षेत्र में भारी ट्रैफिक जाम लग गया। प्रदर्शनकारियों ने मथुरा डोर के विपरीत न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी के दोनों रास्तों को जाम कर दिया। वहीं, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट किया कि ओखला अंडरपास से सरिता विहार के लिए सभी आवागमन बंद है।

ट्वीट में कहा गया, 'बदरपुर की तरफ से आने वाले कार सवार लोगों को मोदी मिल फ्लाईओवर व सीआरआरआई की तरफ से आने वालों को नेहरू प्लेस की तरफ जाने की सलाह दी जाती है। आश्रम चौक की तरफ से आने वाले को रिंग रोड, मूलचंद फ्लाईओवर व बीआरटी कॉरिडोर या डीएनडी फ्लाईओवर की तरफ जाने का सुझाव दिया जाता है।'

दिल्ली फायर सर्विस के एक अधिकारी ने मीडिया बातचीत के दौरान कहा कि शाम 4.42 बजे एक कॉल मिली कि बसों में आग लगाई जा रही है। अधिकारी ने कहा, 'हमने दमकल की चार गाड़ियां भेजी हैं, जिस पर एक हिंसक भीड़ ने हमला किया।' उन्होंने कहा कि हमारा वाहन क्षतिग्रस्त हो गया और दो अग्निशमन कर्मियों को चोटें आईं है। वे अस्पताल में हैं।

Show More
Shivani Singh Content Writing
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned