पति के शरीर में पाए गए महिलाओं के प्रजनन अंग, पत्नी का हुआ बुरा हाल फिर इस सच से उठा पर्दा

पति के शरीर में पाए गए महिलाओं के प्रजनन अंग, पत्नी का हुआ बुरा हाल फिर इस सच से उठा पर्दा

| Updated: 09 Feb 2018, 12:54:25 PM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि महिलाओं के प्रजनन अंगों की वजह से उनके शरीर में किसी भी प्रकार के कोई बदलाव देखने को नहीं मिले।

नई दिल्ली। झारखंड के धनबाद से एक ऐसा मामला सामने आया, जिसने विज्ञान और भगवान द्वारा निर्मित कुदरत पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं। बता दें कि यहां रहने वाले एक 28-30 साल के रमेश (बदला हुआ नाम) के शरीर में महिलाओं के अंग मिले हैं। रमेश की पत्नी बरखा (बदला हुआ नाम) की उम्र अभी 25 साल है। जो इस बात से बिल्कुल परेशान हैं कि उनके पति के शरीर में महिलाओं के अंग कैसे आ गए। लेकिन यह सिर्फ बरखा के लिए ही नहीं बल्कि पूरे विज्ञान जगत के लिए बड़ा सिर दर्द बन गया है।

आपको जानकर हैरानी होगी कि रमेश के शरीर में पुरुषों के प्रजनन अंगों के साथ-साथ महिलाओं के भी प्रजनन अंगों के बारे में पता चला है जिनमें गर्भाशय, अंडाशय और फैलोपियन ट्यूब पाए गए हैं। लेकिन सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि महिलाओं के प्रजनन अंगों की वजह से उनके शरीर में किसी भी प्रकार के कोई बदलाव देखने को नहीं मिले। बरखा ने बताया कि रमेश को बचपन से ही हार्निया की शिकायत थी। जिसके इलाज के लिए वे अस्पताल गए थे। बता दें कि डॉक्टरों ने अब एक जटिल ऑपरेशन के ज़रिए रमेश के शरीर से महिलाओं में पाए जाने वाले सभी प्रजनन अंगों को निकाल लिया है।

बताते चलें कि रमेश का पूरा इलाज धनबाद के पाटलिपुत्र मेडिकल कालेज एंड हॉस्पिटल में कराया गया। ऑपरेशन से पहले डॉक्टरों ने रमेश का अल्ट्रासाउंड किया था, जिसमें उन्होंने देखा कि रमेश के शरीर में महिलाओं के अंगों का विस्तार हो रहा था। बरखा ने बताया कि उन्हें लगा उनकी ज़िंदगी अब खराब हो जाएगी। लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें भरोसा दिया कि ऐसे मामले में रमेश की मर्दानगी पर कोई असर नहीं पड़ेगा। हालांकि रमेश को इस बारे में किसी भी प्रकार की कोई जानकारी नहीं दी गई है। क्योंकि डॉक्टरों का संदेह है कि यदि उन्हें सारी बातें बताई जाती हैं तो उनके दिमाग पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned