पैसे के बदले नौकरी दिलाने के मामले में डीएसपी गिरफ्तार

डुलियाजन के डिप्टी सुपरिटेंडेंट कविता दास पर पीएससी परीक्षा में घोटाले के आरोप है।

डिब्रूगढ़।असम पुलिस ने डिब्रूगढ़ जिले के एक डीएसपी को पैसों के बदले नौकरी दिलाने के आरोप में गिरफ्तार किया है। उन आरोप है कि वह काफी दिनों से इस तरह के घोटाले में शामिल थीं। डुलियाजन के डिप्टी सुपरिटेंडेंट कविता दास पर पीएससी परीक्षा में घोटाले के आरोप हैं।

नौकरी का झांसा देकर टूरिस्ट वीजा पर भेज दिया विदेश, पिता ने लगाया धोखाधड़ी का आरोप

कविता की गतिविधियो पर दी नजर

आरोप है कि वह असम पब्लिक सर्विस कमीशन में पैसों के बदले नौकरी दिलवाने वाले रैकेट में शामिल थीं। डिब्रूगढ़ एसपी सुरजीत सिंह पनेसर ने रविवार को इस मामले की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि इस सूचना के बाद से वह लगातार कविता की गतिविधियों पर नजर रह रहे थे। कई सबूतों के आधार पर उन्हें गिरफ्तार किया गया है। पुलिस का कहना कि अभी जांच जारी है। डीएसपी से सभी आरोपों पर पूछताछ की जा रही है। प्रशासन ने इस मामले में गंभीरता दिखाई है। पुलिस का कहना है कि वह डीएसपी से जुड़े रैकट की तलाश कर रहे हैं। डीएसपी किस तरह से नौकरी दिलाने में मदद करती थी, इसकी जांच की जा रही है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार डीएसपी अपने रसूख का इस्तेमाल कर इस तरह के काम को अंजाम दिया करती थीं।

कविता दास को गिरफ्तार किया

एसपी पनेसर ने कहा कि डिब्रूगढ़ पुलिस ने डीएसपी कविता दास को डुलियाजन से गिरफ्तार कर लिया है। उन पर असम पब्लिक सर्विस कमीशन में जॉब फॉर कैश घोटाले में शामिल होने का आरोप है। गौरतलब है कि पुलिस ने 2015 बैच के 25 भ्रष्ट अधिकारियों की पहचान की है जिन्होंने नौकरी पाने के लिए एपीएससी अधिकारियों को रिश्वत दी थी। इसके बदले उन्हें परीक्षा से संबंधित आंसर स्क्रिप्ट दी गई थी। उन 25 अधिकारियों में से 13 असम सिविल सर्विस में हैं, सात असम पुलिस सर्विस में हैं और बाकी तीन अन्य सिविल सर्विस में हैं।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned