एसपी बेटी को डीएसपी पिता ने गर्व से ठोका सैल्यूट, नजारा देख मुस्कुरा उठे लोग

एसपी बेटी को डीएसपी पिता ने गर्व से ठोका सैल्यूट, नजारा देख मुस्कुरा उठे लोग

जब सामने आए बाप-बेटी तो हुआ ऐसा कुछ की नजारा देख लोग हैरान रह गए।

नई दिल्ली। सोचिए जब पुलिस विभाग में तैनात बाप-बेटी एक समारोह आमने-सामने हो और पिता ने गर्व से अपनी बेटी को सलामी दी हो तो उस वक्त क्या नजारा होगा। ऐसा ही वाक्या रविवार को तेलंगाना में देखने को मिला। दरअसल, यहां वर्दी में तैनात डीएसीपी पिता ने एसपी बेटी को सैल्यूट मारा तो लोग ये देख कर मुस्कुरा उठे। वहीं, खुद पिता का चेहरे भी गर्व से मुस्कुरा उठा।

यह भी पढ़ें-हैदराबाद: पिछले महीने ही खुली आइकिया की बिरयानी में मिला कीड़ा, नोटिस जारी

30 वर्षो से पुलिस विभाग में नौकरी कर रहे हैं उमा महेश्वर

हैदराबाद में राशाकोंडा कमिश्नरी के मलकानगिरी के पुलिस उपायुक्त उमा मेहश्वरा शर्मा अगले साल रिटायर होने वाले हैं। वे लगभग 30 वर्षो से पुलिस विभाग में नौकरी कर रहे हैं। शर्मा फिलहाल हैदराबाद में राशाकोंडा कमिश्नरी के मलकानगिरी क्षेत्र में पुलिस उपायुक्त हैं, जबकि उनकी बेटी ने चार वर्ष पहले पुलिस विभाग में नौकरी शुरू की है। बेटी भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) की 2014 बैच की अधिकारी है। लेकिन रविवार को जब दोनों का आमना-सामना हुआ तो पिता ने गर्व से अपनी बेटी को सलाम किया। पुलिस उपायुक्त ए.आर. उमामहेश्वरा शर्मा अपनी वरिष्ठ अधिकारी सिंधू शर्मा को सलाम कर गर्व का अनुभव करते हैं।

पिता से बड़े पद पर तैनात है बेटी

बता दें कि सिंधू वर्तमान में तेलंगाना के जगतियाल जिला में पुलिस अधीक्षक हैं। उमामहेश्वरा शर्मा ने कहा, 'हम लोग पहली बार ड्यूटी करते समय आमने-सामने आए हैं। मैं भाग्यशाली हूं जो उनके साथ काम करने का मौका मिला।'

यह भी पढ़ें-मां अपनी 7 महीने की बच्ची को समझती थी घर की परेशानियों की वजह, गला दबाकर की हत्या

पिता ने बेटी को किया सलाम

उन्होंने गर्व से कहा कि वे मेरी वरिष्ठ अधिकारी हैं। मैं जब उन्हें देखता हूं, मैं सलाम करता हूं। हम अपनी-अपनी ड्यूटी करते हैं और इस पर चर्चा नहीं करते हैं, लेकिन घर पर हम लोग बिल्कुल पिता और बेटी की तरह रहते हैं। वहीं, जनसभा में महिलाओं की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल रहीं सिंधू ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं। यह अच्छा अवसर है कि हमें साथ काम करने का मौका मिला।

Ad Block is Banned