रोटी, कपड़ा और मकान के साथ शिक्षा व स्वास्थ्य भी जरूरीः राष्ट्रपति

रोटी, कपड़ा और मकान के साथ शिक्षा व स्वास्थ्य भी जरूरीः राष्ट्रपति
president at gwalior

राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने भारत के विकास के लिए लोगों को खाना, कपड़ा और मकान के साथ शिक्षा और स्वास्थ्य को जरूरी बताया।

ग्वालियर। राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने सोमवार को कहा कि देश के लोगों को खाना, कपड़ा और मकान के साथ शिक्षा और स्वास्थ्य उपलब्ध कराने पर ही भारत का विकास संभव होगा। मुखर्जी मध्यप्रदेश के ग्वालियर के जीवाजी विश्वविद्यालय में एकीकृत आवासीय और झुग्गी बस्ती विकास परियोजना के अंतर्गत बनाए गए ईडब्ल्यूएस आवासों की चाबियां और स्वामित्व प्रमाण पत्र वितरण समारोह की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे। 

उन्होंने कहा कि ‘रोटी, कपड़ा और मकान, मांग रहा है हिंदुस्तान’ के नारे में वे शिक्षा और स्वास्थ्य को भी जोड़ना चाहेंगे। राष्ट्रपति ने ग्वालियर को भारत सरकार के स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के लिए चुने जाने पर मध्यप्रदेश सरकार और शहर की जनता को बधाई दी। 

मुखर्जी ने कहा कि उनके लिए यह खुशी की बात है कि वे इस मौके पर मौजूद हैं, जब मलिन बस्ती जैसी स्थिति में रहने वालों को उनके खुद के मकान दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे इस बात से प्रसन्न हैं कि प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से 2022 तक देश के सभी आवासहीनों को आवास उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि आवास समस्या हल करना आसान नहीं है। 2012 में भारत के शहरों में 1.88 करोड़ मकानों की कमी थी और यह 6.6 फीसदी प्रतिवर्ष की दर से बढ़ रही थी। 2022 में यह संख्या 3.4 करोड़ को छूने की संभावना है। 

राष्ट्रपति ने कहा कि सभी को आवास उपलब्ध कराना महज एक नारा नहीं है और सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत इसे पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है। मुखर्जी इस कार्यक्रम के बाद सिंधिया कन्या विद्यालय के 60वें स्थापना दिवस में भाग लेने के लिए रवाना हो गए। 

इससे पहले एक दिवसीय यात्रा पर आज शाम लगभग चार बजे ग्वालियर पहुंचने पर विमानतल पर मध्यप्रदेश के राज्यपाल ओ पी कोहली और अन्य गणमान्य लोगों ने श्री मुखर्जी का स्वागत किया। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी मौजूद थे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned