टीकाकरण के लिये देश में वैक्सीन की पर्याप्त डोज मौजूद, सरकार जल्द करेगी वितरण का खुलासा

नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि सरकार जल्द ही टीके की खरीद और उसे बांटने की अपनी योजना का खुलासा करेगी।

नई दिल्ली। भारत में दो कोविड19 वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी मिल गई है। इनमें एक ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोविशील्ड है, जबकि दूसरी भारत बायोटेक की कोवैक्सीन। मंजूरी के मिलने के साथ ही सरकार पूरे देश में टिकाकरण की तैयारी में लग गई है। इस बीच नीति आयोग ने कहा है कि पहले चरण में टीकाकरण करने के लिये देश में टीके का पर्याप्त भंडार उपलब्ध है।

दो Vaccine को एक साथ मंजूरी देने वाला पहला देश बना भारत, जानिए Covishield और Covaxin के बीच अंत

नीति आयोग के सदस्य और कोरोना टीकाकरण को लेकर बने राष्ट्रीय विशेषज्ञ समूह के चेयरमैन वीके पॉल ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि सरकार जल्द ही टीके की खरीद और उसे बांटने की अपनी योजना का खुलासा करेगी। पॉल ने बताया कि, पहले चरण में मृत्यु दर के उच्च जोखिम वाले लोग और हमारे स्वास्थ्य सेवा और अग्रिम पंक्ति के कर्मी को वैक्सीन दिया जाएगा। और इसके लिए हमारे पास पर्याप्त भंडार है।

उन्होंने सामूहिक टीकाकरण में सबसे बड़ी चुनौती के बारे में बात करते हुए कहा कि हमारे लिए सबसे सबसे बड़ी चुनौती एक साथ लोगों को जुटाना है। इस तरह के पैमाने पर सामूहिक टीकाकरण के लिये सबसे महत्वपूर्ण चुनौती नियत दिन पर लोगों को इकट्ठा करना है साथ ही सभी नियमों के साथ टीकाकरण पूरा करना है।

कांग्रेस ने 'कोवैक्सीन' के अप्रूवल पर उठाए सवाल, स्वास्थ मंत्री हर्षवर्धन से मांगी सफाई

बता दें भारत के औषधि नियामक ने हाल ही में ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका की कोविशील्ड और घरेलू दवा कंपनी भारत बायोटेक की पूर्णत स्वदेशी कोवैक्सीन को आपात उपयोग की मंजूरी दी है। DCGI ने इन दोनों वैक्सीन को अपनी जांच में अच्छा पाया है। हालांकि इसमें से वैक्सीन का तीसरे स्तर का सही ट्रायल नहीं हुआ है।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned