लॉकडाउनः जामा मस्जिद में पहली बार 10 लोगों ने अदा की नमाज, देशभर में सख्ती से पालन

  • 21 दिन Lock Down के बीच मुस्लिम समुदाय का बड़ा कदम
  • धर्म गुरुओं की अपील पर घरों में अदा की जुमे की नमाज
  • जामा मस्जिद में पहली बार सिर्फ 10 लोग रहे मौजूद

नई दिल्ली। देशभर में कोरोनावायरस ( Coronavirus ) के बढ़ते खतरे के चलते केंद्र सरकार ( Central Govt ) ने देश में 21 दिन का लॉकडाउन ( Lock Down ) घोषित कर दिया है। पीएम मोदी ( PM Modi ) के ऐलान के बाद देशभर में लॉकडाउन का शुक्रवार को तीसरा दिन है। इस बीच मुस्लिम समुदाय के लिए शुक्रवार का दिन काफी अहम होता है। क्योंकि इस दिन जुमे की नमाज अदा की जाती है।

लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग के चलते मुस्लिम धर्मगुरुओं ने अपने अनुयायियों से आह्वान किया था कि वे घर पर जुमे की नमाज अदा करें। इसका व्यापक असर देखने को मिला।

शादी रचाने निकला था दूल्हा, कर बैठा बड़ी भूल, पहुंच गया हवालात

कोविड-19 के प्रकोप को देखते हुए लोगों ने मस्जिदों जुमे की नमाज अदा नहीं की। राजधानी दिल्ली में जामा मस्जिद में भी जुमे की नमाज सिर्फ 10 लोगों ने अदा की। इतिहास पहली बार है जब सिर्फ 10 लोगों ने जामा मस्जिद में जुमे की नमाज अदा की हो।

कोरोना संकट के चलते दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने एलान किया कि जुमे की नमाज अदा नहीं की जाएगी।

फतेहपुरी मस्जिद के इमाम मुकर्रम अहमद ने भी लोगों से कहा है कि यह हुकूमत की ओर से जो भी दिशा-निर्देश दिये जा रहे हैं उनका पालन किया जाए, यही वक्त का तकाजा है।

उधर, लखनऊ के दारुल उलूम नदवा ने भी घर पर ही नमाज अदा करने को कहा है। जमीअत उलमा ए हिंद के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना अरखद मदनी ने भी अपील की है कि जुमे में जमात की बजाय घर पर ही नमाज पढ़ें।

तेजी से बदल रही है मौसम की चाल, देश के कई इलाकों में बढ़ सकता है कोरोनावायरस का खतरा

हर शुक्रवार को नमाज अदा करने के लिए कम से कम 10 हजार लोगों की भीड़ इकट्ठा होती है। हालाँकि, आज संख्या उंगलियों पर गिनी जा सकती है। मस्जिद के कर्मचारियों सहित दस लोगों ने जुमा नमाज की पेशकश की जिससे बाकी मस्जिदों और समुदाय के लिए एक मिसाल कायम हुई।

ईद, अल्विदा जैसे मौकों पर जो रमजान के आखिरी शुक्रवार को होता है, यह मस्जिद लगभग 1 लाख लोगों से भरी रहती है। नियमित दिनों में भी मस्जिद में लगभग 2000 लोग होते हैं।

बीजेपी नेता शाह नवाज हुसैन ने भी घर पर अदा की नमाज।

वहीं जम्मू-कश्मीर में भी लॉकडाउन के चलते मस्जिदों को बंद ही रखा गया।

महिलाओं ने घरों पर ही जुमे की नमाज अदा की

corona virus in india
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned