राजीव गांधी के करीबी पूर्व केंदीय मंत्री सतीश शर्मा नहीं रहे, अमेठी से रह चुके हैं सांसद

Highlights

  • 1993 से 1996 में वो केंद्र में पेट्रोलियम मंत्री रहे।
  • उन्होंने पायलट के तौर पर प्रशिक्षण भी हासिल किया।

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता सतीश शर्मा का बुधवार को निधन हो गया। 73 वर्षीय सतीश शर्मा रायबरेली और अमेठी से सांसद रह चुके हैं। 1993 से 1996 में वो केंद्र में पेट्रोलियम मंत्री भी रहे। उन्हें पूर्व पीएम राजीव गांधी का बेहद करीबी समझा जाता है।

डीजल-पेट्रोल की बढ़ रही कीमतों पर बोले पीएम मोदी, कहा- पहले की सरकारें हैं जिम्मेदार

शर्मा के निधन पर कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने शोक व्यक्त किया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा, 'कैप्टन सतीश शर्मा के निधन के बारे में सुनकर दुखी हूं। अपने से छोटे साथियों के लिए उनका व्यवहार हमेशा प्रोत्साहित करने वाला था। उन्हें हमेशा याद रखा जाएगा।'

अमेठी से 1991 में पहली बार सांसद बने

कैप्टन सतीश शर्मा का सिकंदराबाद, तेलंगाना में जन्म 11 अक्टूबर 1947 को हुआ था। उनकी पढ़ाई देहरादून के कर्नल ब्राउन कैंब्रिज स्कूल से हुई थी। इसके बाद उन्होंने पायलट के तौर पर प्रशिक्षण भी हासिल किया। कांग्रेस ने 1991 में राजीव गांधी की हत्या के बाद सतीश शर्मा को अमेठी से लोकसभा चुनाव का टिकट दिया गया। इस दौरान सतीश शर्मा चुनाव में जीते थे। इसके बाद 1993 से 1996 के बीच वे पेट्रोलियम और नेचुरल गैस मंत्री भी रहे।

Congress leader
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned