एयरपोर्ट पर बिछड़ गई बच्ची को इस तरह से माता-पिता से मिलवाया

दंपति अपनी चार साल की बच्ची को भूलकर एयरपोर्ट से बाहर आ गया था, सीसीटीवी की मदद से उसे ढूंढ़ निकाला।

नई दिल्ली। दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर एक बच्ची अपने माता-पिता से बिछड़ गई। रोती हुई बच्ची को देखकर एक सीआइएसएफ का जवान मसीहा बनकर पहुंचा। उसने बच्ची के माता-पिता को कड़ी मशक्कत के बाद खोज निकाला। गौरतलब है कि दंपति अपनी चार साल की बच्ची को भूलकर एयरपोर्ट से बाहर आ गया था। अंदर बच्ची अपने अभिभावकों को ना देखकर रोने लगी। जवान ने बच्ची से रोने की वजह पूछी तो उसने अपने माता-पिता के बारे में बताया। बच्ची के अभिभावकों को इधर-उधर तलाशा गया, लेकिन वे नहीं मिले।

34 लाख से अधिक के विदेशी नोट के साथ हवाई यात्री गिरफ्तार

सीसीटीवी से ढूंढ निकाला

काफी देर तक माता-पिता के न मिलने पर जवान ने दंपति को सीसीटीवी पर खोजना शुरू किया। इसमें बच्ची ने टर्मिनल से बाहर निकलते हुए अभिभावकों को पहचान लिया गया। एनाउंसमेंट करके बच्ची के अभिभावकों को इसकी खबर दी गई। इसके बाद जवान ने खुद बच्ची को उन्हें सौंप दिया। सीआईएसएफ ने बताया कि मामला सोमवार रात 9:25 बजे का है। यहां सुलभ भाटिया और स्नेहा भाटिया अपनी चार साल की बच्ची के साथ स्पाइसजेट की फ्लाइट से जयपुर से दिल्ली आए थे। ये लोग टर्मिनल-1 सी से बाहर आ रहे थे। लगेज कनवेयर बेल्ट से लगेज उठाकर एयरपोर्ट से बाहर निकलने की जल्दबाजी में अपनी चार साल की बच्ची को भूल गए। दोनों पति-पत्नी टर्मिनल से बाहर निकल गए थे।

विमान के टॉयलेट से मिले सवा करोड़ के सोने के 30 बिस्किट

एयरपोर्ट पर काफी भीड़ थी

बच्ची जब रो रही थी तब एयरपोर्ट पर काफी भीड़ थी। इस दौरान लोग बच्ची को देखकर भी अनदेखा कर रहे थे। बच्ची छोटी थी, इसलिए वह ठीक से अपनी बात नहीं बता पा रही थी। जवान ने जब उससे अभिभावकों के बारे में पूछा तो वह ज्यादा जानकारी दे नहीं पा रही थी। इसके बाद जवान तुरंत उसे सीसीटीवी रूम में ले गया और उसे फुटेज दिखाने लगा। इस फुटेज में बच्ची को अपने माता-पिता दिखाई दिए। इसके बाद जवान ने बच्ची को उन्हें सौंप दिया।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned