Good News : प्रवासी मजदूरों को रेलवे की सौगात, 116 जिलों के श्रमिकों को मिलेगा रोजगार

  • Employment To Migrant Workers : गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत 6 राज्यों के 116 जिलों के मजदूरों को काम मुहैया कराया जाएगा
  • क्रॉसिंग के आपसास सड़क बनाने और ट्रैक की देखरेख समेत दूसरे काम होंगे शामिल

By: Soma Roy

Published: 26 Jun 2020, 02:23 PM IST

नई दिल्ली। लॉकडाउन के चलते कई लोगों बेरोजगार (Unemployed) हो गए हैं। सबसे ज्यादा नुकसान श्रमिकों (Migrant Laborers) को हुआ है क्योंकि फैक्ट्रियों और कारखानों में ताला लगने से उनकी रोजी-रोटी मुश्किल में पड़ गई है। ऐसे में उन्हें सहूलियत देने के लिए राज्य एवं केंद्र सरकारों की ओर से कई तरह की योजनाएं चलाई जा रही हैं। इसी क्रम में एक और योजना को शामिल किया गया है। अब प्रवासी श्रमिकों को गरीब कल्याण रोजगार अभियान (Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan Yojana) के तहत रोजगार मुहैया कराया जाएगा। इसके लिए भारतीय रेलवे (Indian Railways) आगे आया है। रेलवे अपनी 1800 करोड़ रुपए की परियोजनाओं में करीब 116 जिलों के श्रमिकों को काम देगा।

भारतीय रेलवे 31 अक्टूबर तक 125 दिनों के लिए 6 राज्यों के 116 जिलों के मजदूरों (Migrant Workers) को रोजगार (Employment) उपलब्ध कराएगा। इस बात की जानकारी रेलमंत्री पीयूष गोयल ने खुद ट्वीट के जरिए दी। अभियान के तहत 6 राज्यों उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, बिहार, ओड़िशा और झारखंड के 116 जिलों में इन प्रवासी मजदूरों को काम दिया जाएगा। रेलवे ने बताया कि श्रमिकों को चिंहित किया गया है। इसमें क्रॉसिंग के आपसास सड़क बनाने, रेलवे स्टेशन तक की सड़क, ट्रैक के करीब नाले बनाना एवं इनकी सफाई करना, रेलवे ट्रैक्स की मरम्मत और वृक्षारोपण जैसे काम उपलब्ध कराए जाएंगे। जोनल रेलवे रोज इन कामों की निगरानी करेंगे। अक्टूबर 2020 तक यह रिपोर्ट पेश करते रहना होगा।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned