गुड न्यूज: मजदूरों को नहीं जाना पड़ेगा पैदल, यूपी के 6 रूट्स पर चलाई गई स्पेशल बसें

  • Patrika Impact : यूपी सरकार ने उत्तर प्रदेश में 21 स्पेशल बसें चलाए जाने के दिए निर्देश
  • गढ़मुक्तेश्वर बस डिपो में यात्रियों को रवाना करने से पहले सैनेटाइज किए गए बस

By: Soma Roy

Published: 27 Mar 2020, 04:55 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना (Coronavirus) के कहर ने पूरे देश की रफ्तार को रोक दिया है। लॉकडाउन (Lockdown) के चलते ट्रेन और बसों समेत आने-जाने के सभी संसाधन बंद हैं। ऐसे में सबसे ज्यादा तकलीफ मजदूरों (Labourers) को हो रही थी। क्योंकि ज्यादातर लोग नोएडा, गाजियाबाद और एनसीआर में काम करते थे। ऐसे में घर जाने के लिए मजबूरन उन्हें कई किमी का सफर पैदल या साईकिल पर तय करना पड़ रहा था। ऐसे में उनके लिए राहत की खबर है। दरअसल यूपी में रोडवेज (UP Roadways) की ओर से आज से स्पेशल बस सेवा (Special Bus Service) शुरू की गई है।

कोरोना ने तोड़ी मजदूरी की कमर, न रोटी न कपड़ा, पैदल ही तय कर रहें मीलों का सफर

मालूम हो कि पत्रिका ने हाल ही में मजदूरों के इस दर्द को बयां करने के लिए एक खबर प्रकाशित की थी। जिसमें बताया गया था कि कैसे बिहार जाने के लिए एक परिवार रिक्शे से करीब 1018 किमी का सफर (On Foot) करने को मजबूर था। वहीं कई अन्य मजदूर भी बिना खाए पिए ही पैदल अपने मंजिल तक पहुंचने की कोशिश कर रहे थे।

mazdoor1.jpg

उनकी इस तकलीफ को देखते हुए यूपी सरकार (UP Government) ने उत्तर प्रदेश के 6 रूट्स पर 21 बसें चलाए जाने की घोषणा है। इसमें नोएडा, गाजियाबाद और हापुड़ से लेकर यूपी के अन्य क्षेत्र शामिल होंगे। सरकार के आदेश के बाद गढ़मुक्तेश्वर रोडवेज डिपो से मजदूरों को गाजियाबाद लाने के लिए बस सेवा शुरू की गई। ये स्पेशल बस सेवा है महज जरूरतमंदों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए है। गढ़मुक्तेश्वर के एआरएम रंजीत सिंह बताया कि यात्रियों को रवाना करने से पहले बसों को सैनेटाइज (Sanitize) कराया गया। इसके बाद उन्हें दूर-दूर बिठाया गया, जिससे संक्रमण का खतरा न रहें।

Show More
Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned