आरोग्य सेतु ऐप विवाद पर सरकार ने रखा अपना पक्ष

आरोग्य सेतु ऐप (Aarogya Setu App) पर सूचना आयोग के साथ विवाद के बाद सरकार की तरफ से स्पष्टीकरण सामने आया है

 

नई दिल्ली: आरोग्य सेतु ऐप (AarogyaSetu App) पर सूचना आयोग (Central Information Commission) के साथ विवाद के बाद सरकार ने स्पष्टीकरण दिया है।

सरकार का कहना है कि कोरोना से लड़ने और देश के लोगों के सार्वजनिक-निजी सहयोग के लिए आरोग्य सेतु ऐप को बनाया गया था। इसके साथ ही इसे पारदर्शी तरीके से विकसित किया गया था। इस ऐप को मात्र 21 दिनों के रिकॉर्ड समय में विकसित किया गया था।

सरकार ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि इस बात में कोई संदेह नहीं होना चाहिए और भारत में COVID-19 महामारी को रोकने में मदद करने में इसकी काफी भूमिका रही है।

बता दें केंद्रीय सूचना आयोग ने मंगलवार को NIC और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय से जवाब मांगा था कि इस ऐप को किसने बनाया है। इसके लिए बाक़ायदा कारण बताओ नोटिस भी भेजा गया था।

इसके साथ ही आयोग ने ये भी कहा था कि 'अधिकारियों द्वारा सूचना देने से इनकार किए जाने को स्वीकार नहीं किया जाएगा।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned