ओआरओपी पर हर साल खर्च होंगे 7500 करोड़ रुपए

ओआरओपी पर हर साल खर्च होंगे 7500 करोड़ रुपए
OROP

ओआरओपी से पेंशन संबंधी रक्षा बजट में वर्ष 2015-16 में 54000 करोड़ और वर्ष 2016-17 में 65000 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी होगी

नई दिल्ली। सरकार ने पूर्व सैनिकों की एक रैंक एक पेंशन (ओआरओपी) योजना लागू करने से जुड़े दिशा-निर्देश बुधवार को जारी कर दिए जिनमें पेंशन में हर साल 7500 करोड़ रुपए की अतिरिक्त राशि और लगभग 11 हजार करोड़ रुपए बकाए के रूप में दिए जाएंगे। लगभग 18 लाख पूर्व सैनिकों को ओआरओपी का लाभ मिलेगा। ओआरओपी से होने वाले खर्च के 86 फीसदी का लाभ जेसीओ और जवानों को होगा।

ओआरओपी से पेंशन संबंधी रक्षा बजट में वर्ष 2015-16 में 54000 करोड़ और वर्ष 2016-17 में 65000 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी होगी। इससे पेंशन बजट में कुल 20 प्रतिशत की वृद्धि होगी। पूर्व सैनिकों के बकाए का भुगतान चार किस्तों में किया जाएगा, जबकि पारिवारिक पेंशन पाने वालों तथा वीरता पुरस्कार से सम्मानित पेंशनधारियों को यह भुगतान एक किस्त में किया जाएगा।

सरकार ने पूर्व सैनिकों की 42 वर्ष से चली आ रही मांग को मानते हुए गत वर्ष इसकी अधिसूचना जारी की थी। यह योजना लागू होने से हर वर्ष 7500 करोड़ रुपए का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा, जबकि एक जुलाई 2014 से 31 दिसम्बर 2015 तक की बकाया राशि के मद में 10 हजार 900 करोड़ रुपए देने होंगे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned