Lockdown के बाद पब्लिक ट्रांसपोर्ट के लिए नई गाइडलाइन तैयार, इन नियमों का करना होगा पालन

  • देश में कोरोना वायरस ( coronavirus ) का कहर जारी
  • लॉकडाउन ( Lockdown 3.0 ) के बाद ट्रांसपोर्ट ( Public Transport ) के नियमों में होंगे बदलाव
  • केन्द्र सरकार ( Central Government ) ने जारी की नई गाइलाइन

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस ( coronavirus ) का कहर जारी है। आलम ये है कि इस वायरस से बचने के लिए 24 मार्च से लॉकडाउन ( Lockdown ) लागू है, अगामी 17 मई तक जारी रहेगा। हालांकि, लॉकडाउन पार्ट- 3 ( Lockdown 3.0 ) में सरकार ने कुछ रियायतें भी दी है। वहीं, लॉकडाउन के बाद को लेकर अब सरकार ( Government ) ने तैयारियां शुरू कर दी है। इसी कड़ी में पब्लिक ट्रांसपोर्ट ( Public Transport ) को लेकर सरकार की ओर से नई गाइलाइन तैयार की गई है, जिसमें कई तरह के बदलाव किए गए हैं।

बस-मेट्रो में बदलेगा सफर करने का तरीका

रिपोर्ट्स के मुताबिक, लॉकडाउन के बाद बसों और मेट्रो में सफर करने का तरीका पूरी तरह से बदल जाएगा। सरका के गाइडलाइंस के मुताबिक कोरोना के संकट से निपटने के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह से पालन कराया जाएगा। इसके अलावा ऑफिस टाइमिंग्स में भी बदलाव होंगे, जिससे एक साथ कहीं भी भीड़ न जमा हो। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने गाइडलाइंस जारी करते हुए कहा कि नये नियम के अनुसार ट्रैफिक को मैनेज करना भी आसान हो जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस के बाद देश में एक नई तरह की परिस्थितियां पैदा होंगी। ऐसे में हमें बेहतर जिंदगी के लिए कुछ नियमों का पालन करना होगा।

गाइडलाइन में सोशल डिस्टेंसिंग पर पूरा फोकस

इस नये गाइडलाइन्स को काउंसिल ऑफ साइंटिफिक ऐंड इंडस्ट्रियल रिसर्च ( CSIR ) और सेंट्रल रोड रिसर्च इंस्टिट्यूट ( CRRI ) ने तैयार किया है। नये रोडमैप में बताया गया है कि कोरोना सकंट के बाद पब्लिक ट्रांसपोर्ट में क्या नहीं करना है और क्या करना है? साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग पर काफी फोकस किया गया है। बसों के अलावा मेट्रो में इस बात का खासा ध्यान रखा जाएगा। बताया जा रहा है कि सरकार ने सभी बस अड्डों, फुटपाथ पर ऐसी पेंटिंग तैयार कराने का फैसला लिया है, जिनमें सोशल डिस्टेंसिंग पर जागरूकता संबंधी बातें लिखी होंगी। इसके अलावा लोगों के सवार होने और उतरने के लिए मेट्रो और बसों के स्टॉपेज टाइम में इजाफा किया जाएगा। सरकार का मानना है कि इन नियमों से ट्रैफिक पर भी बड़ा असर पड़ेगा। देश में ट्रैफिक की समस्या भी काफी कम होगी। अब देखना ये है कि सरकार के इन नये नियमों का लोग कितना पालन करते हैं और उससे कितना फायदा होता है?

coronavirus COVID-19
Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned